बिलासपुर। E-Shram Card Scheme: केंद्र सरकार ने ऐसे युवा व बुजुर्ग जो आयकर दाता नहीं हैं और जो ईपीएफ, ईएसआइसी व एनपीएस के सदस्य हैं उनके लिए ई-श्रम कार्ड योजना में पंजीयन कराने की सुविधा दी है। ई-श्रम कार्ड योजना में पंजीयन कराने वालों को दो लाख रुपये का मुफ्त बीमा का लाभ भी मिलेगा। पंजीयन कराने के लिए आधार नंबर, उससे लिंक मोबाइल और बैंक खाते की जानकारी देनी होगी। पंजीयन के लिए किसी भी च्वाइस सेंटर व लोक सेवा केंद्र के जरिए कराने की सुविधा दी गई है।

पंजीयन के बाद केंद्र सरकार के श्रम विभाग द्वारा पंजीकृत श्रमिकों को 12 अंकों का ई-श्रम कार्ड जारी किया जाएगा। इस कार्ड की देशभर में मान्यता रहेगी। इसके माध्यम से श्रमिकों को केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ भी पहुंचाया जाएगा। ई-श्रम कार्ड के माध्यम से श्रमिकों को उनके काम के आधार पर बांटा जाएगा। जिससे कि उनको रोजगार प्रदान करने में सहायता प्राप्त होगी। ई-कार्ड के माध्यम से सरकार को श्रमिकों के लिए विभिन्न प्रकार की योजना लांच करने एवं उनका संचालन करने में भी सहायता प्राप्त होगी।

ई-कार्ड के लिए इनका हो सकता है पंजीयन

ई-श्रमिक कार्ड के लिए घरेलू नौकर, नौकरानी कुक सफाई कर्मचारी, गार्ड, रेजा, कुली, रिक्शा चालक, ठेला में किसी भी प्रकार का सामान बेचने वाला(वेंडर), होटल के नौकर वेटर, रिसेप्शनिस्ट, पूछताछ वाले क्लर्क, आपरेटर, हर दुकान का नौकर, सेल्समैन—हेल्पर, आटो चालक, ड्राइवर, पंचर बनाने वाला, ब्यूटी पार्लर की वर्कर, नाई, मोची, दर्जी, बढ़ई, प्लम्बर, बिजली वाला(इलेक्ट्रीशियन), पोताई वाला (पेंटर), टाइल्स वाला, वेल्डिंग वाला, खेती वाले मजदूर, नरेगा मजदूर, ईंट भट्ठा के मजदूर, पत्थर तोड़ने वाले, खदान मजदूर, फाल्स सीलिंग वाला, मूर्ती बनाने वाले, मछुवारा, चरवाहा, डेयरी वाले, सभी पशुपालक, पेपर का हॉकर, जोमैटो स्विगी के डिलीवरी बॉय, अमेजन फ्लिपकार्ट के डिलीवरी बॉय(कूरियर वाले), नर्स, वार्डबॉय, आया, मंदिर के पुजारी, विभिन्न सरकारी ऑफिस के दैनिक वेतन भोगी, कलेक्टर रेट वाले कर्मचारी, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सहायिका, मितानिन, आशा वर्कर आदि का पंजीयन हो सकता है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local