बिलासपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन के अंतर्गत हथबंद रेलवे स्टेशन के पास रात करीब 10.30 बजे ट्रेन के इंजन से मारुति रिट्ज कार टकरा गई। दुर्घटना के तुरंत बाद बिलासपुर मंडल में पांच बार हूटर बजा। रेलवे के आला अधिकारियों में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में मेडिकल रिलीफ ट्रेन रवाना करने का आदेश हुआ। सभी विभागों को अलर्ट कर दिया गया। शुरुआती जांच में पता चला कि घटना के बाद से कार चालक गायब है।

बिलासपुर रेलवे के आला अधिकारी देर रात तक पूछताछ करने में जुटे थे। जांच के बाद सिर्फ इतना पता चला की रायपुर मंडल के हथबंद रेलवे स्टेशन के करीब मारूति रिट्ज कार जिसका नंबर सीजी-04 एचबी 4871 इंजन से टकरा गई। घटना के वक्त कार चालक गायब मिला। कार किसकी थी, कोई जनहानि या नुकसान को लेकर रेलवे जोन के अधिकारी कुछ भी बताने बचते नजर आए।

उधर मेडिकल रिलीफ ट्रेन रवाना कर दिया गया था। रायपुर मंडल को सूचना मिलते ही वहां के अधिकारी कर्मचारी भी मौके पर पहुंच गए। बता दें कि अधिकांश अधिकारी-कर्मचारी शुरूआत में इसे माक ड्रील मान रहे थे लेकिन रात 11.30 बजे तक स्पष्ट हो गया कि ट्रैक पर घटना हुई है।

जांच के बाद होगी कार्रवाई

दुर्घटना के बाद माना जा रहा है कि रेलवे द्वारा कल जांच के आदेश दिए जा सकते हैं। जिसके बाद स्पष्ट होगा कि यह हादसा कैसे हुआ। दोषियों पर कार्रवाई के साथ रेलवे एक्ट के तहत अपराध भी पंजीबद्ध किया जाएगा। फिलहाल रेलवे ने कार को अपने कब्जे में ले लिया है। इस हादसे के बाद कोई भी यात्री ट्रेनें प्रभावित नहीं हुई हैं।

रेल कर्मचारी कोसते रहे

हूटर बजने के बाद इंजीनियरिंग, विद्युत विभाग सहित मेडिकल स्टाफ की नींद उड़ गई। वहीं अधिकारी गहरी नींद में थे। किसी भी जिम्मेदार अधिकारी ने इस घटना को लेकर स्पष्टीकरण नहीं दिया। इसके कारण कर्मचारी रात में जागते रहे और अधिकारियों को कोसते रहे। वहीं यात्री भी दहशत में थे। आखिर कहां पर कौन सी दुर्घटना हुई है।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close