0.सभा में सांसद श्रीमती गोमती साय ने साधा कांग्रेस विधायकों पर निशाना

0.आरोपित के खिलाफ अन्य धारा जोड़ने और जिलाबदर करने की मांग

फोटो 1 जेएसपी 1 : भाजपा के आह्वान पर शहर की बाजार स्वफूर्त रही बंद, 1 जेएसपी 2 : पुरना नगर में आमसभा को संबोधित करती सांसद श्रीमती गोमती साय, 1 जेएसपी 3 : सभा स्थल पर जुटे स्थानीय ग्रामीण।

जशपुरनगर(नईदुनिया न्यूज)। वट सावित्री पूजा के दिन सोमवार को एक मुस्लिम युवक द्वारा पालीथिन में पेशाब भरकर पूजा कर रहीं महिलाओं पर फेंकने का मामला तूल पकड़ लिया है। महिलाओं को पूजा बीच में छोड़कर लौटना पड़ा था। रात आठ बजे महिलाओं ने थाने पहुंचकर युवक के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई थी।

बुधवार को इस घटना के विरोध में जशपुरनगर बंद रहा। बड़ी संख्या में महिलाएं सड़क पर उतर आई हैं। पुलिस ने आरोपित युवक जहीर खान को गिरफ्तार कर उसे जेल भेज दिया है। बावजूद इसके महिलाओं का गुस्सा शांत नहीं हो रहा है। महिलाएं आरोपित पर जिलाबदर की कार्रवाई करने की मांग कर ही हैं, ताकि किसी भी धर्म की भावनाओं को आहत करने की कोई हिम्मत न कर सके। की है। सुरक्षा के चलते बड़ी संख्या में पुलिस बल भी तैनात कर दिया गया है। इस मामले को लेकर सुबह से ही शहर में हलचल शुरू हो गई थी। भाजपा के आह्वान पर शहर स्वफूर्त शत प्रतिशत बंद रहा। यहां तक कि होटल और शहर के आसपास स्थित ढाबों में भी सन्नााटा पसरा रहा। हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने बाइक रैली निकाल कर शहर में नारेबाजी कर घटना पर नाराजगी जाहिर करते रहे। वहीं दूसरी ओर घटना स्थल पुरना नगर में स्थानीय महिलाएं बड़ी संख्या जुटने लगी थी। नाराज महिलाओं ने पुलिस की कार्रवाई पर असंतोष जताते हुए रैली निकाल कर शहर का भ्रमण करने की घोषणा कर दी। सूचना पर मौके पर पुलिस बल पहुंच गई।

कांग्रेस विधायकों पर भड़की सांसद गोमती साय

दोपहर लगभग 4 बजे रायगढ़ लोकसभा सांसद श्रीमती गोमती साय की उपस्थिति में रानी बगीचा में सभा का आयोजन किया गया। इस सभा में सांसद ने मामले को लेकर कांग्रेस के तीनों विधायक की चुप्पी पर जमकर निशाना साधा। उन्होनें कहा कि अगर यह मामला किसी दूसरे धर्म से जुड़ा होता तो विधायक आसमान सिर पर उठा लिए होते। उन्होनें कहा कि सिर्फ चुनरी बांध कर मंदिरों के सामने फोटो खिंचाने से हिंदूत्व का भला नहीं होगा। बल्कि जरूरत के समय हिंदू समाज के साथ खड़ा भी होना होगा। लेकिन पुरना नगर में इस समय भाजपा के अलावा कोई भी राजनीतिक दल नजर नहीं आ रहा है। उन्होनें जोर देकर कहा कि यह घटना महिलाओं के सम्मान पर चोट है। यह अचानक हुई घटना नहीं बल्कि सोची समझी साजिश का हिस्सा है। वरिष्ठ भाजपा नेता कृष्ण कुमार राय ने कहा कि जशपुर के शांत महौल को अशांत करने की कोशिश की जा रही है। इससे सख्ती से निबटना आवश्यक है। सभा को भाजपा के जिलाध्यक्ष रोहित साय,जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती रायमुनि भगत,जिला महिला भाजपा अध्यक्ष श्रीमती ममता कश्यप, जिला पंचायत जशपुर के उपाध्यक्ष उपेन्द्र यादव, पूर्व विधायक जगेश्वर राम, गंगाराम, दुर्गा भगत, कृपाशंकर भगत, ओमप्रकाश सिन्हा, मानू सोनी, संतोष सिंह, हरिशंकर मिश्र, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती रजनी प्रधान, मुन्नाी गुप्ता सहित भाजपा के कार्यकर्ता शामिल थे।

ये है प्रमुख मांग

सभा स्थल पर एसडीएम बालेश्वर भगत को सौपें गए ज्ञापन में ग्रामीणों ने मामले के आरोपित नसीम खान के विरूद्व एक्ट्रोसिटी एक्ट,महिलाओं की लज्जा भंग करने और शांति व्वस्था भंग करने से संबंधित धारा लगाने और उसके खिलाफ जिलाबदर करने की कार्रवाई की मांग की है। मौके पर उस्थित एसडीओपी आरएस परिहार ने बताया कि अभी मामले की जांच की जा रही है। बयान के आधार पर आरोपित के खिलाफ आगे भी कानून के अनुसार धारा जोड़ी जा सकती है। वहीं नाराज महिलाओं ने मांग पूरी न होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।

---------------

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close