Pathalgaon Hit and Run Case: जशपुर नगर। पत्थलगांव में स्थिति फिर तनावपूर्ण होने लगी है। शुक्रवार को शोभायात्रा के दौरान हुए हादसे में मृत गौरव अग्रवाल के अंतिम संस्कार के बाद एक बार फिर शहरवासी बड़ी संख्या में धरने में बैठ गए है। नारेबाजी कर रहे नगरवासी लापरवाही बरतने वाले थाना प्रभारी संत लाल आयाम और ए एसआई केके साहू को बर्खास्त करने की मांग कर रहे हैं। स्थिति को सम्हालने के सरगुजा और बिलासपुर के आईजी पत्थलगांव में पहुँच चुके है। भाजपा के जिला बन्द के आह्वान को देखते पत्थलगांव और जशपुर सहित पूरे जिले में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है।

पत्थलगांव में शुक्रवार को विजयादशमी पर्व के धार्मिक जुलूस के दौरान हुए भीषण हादसे के बाद पत्थलगांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। मृतक गौरव अग्रवाल का अंतिम संस्कार आज स्थानीय मुक्तिधाम में किया जाएगा। इस बीच मृतक के स्वजनों को एक करोड़ रुपये और घायलों को 25— 25 लाख रुपये मुआवजा देने की मांग को लेकर भाजपा के आह्वान पर बंद किया गया है। इसका जिले में व्यापक असर दिख रहा है।

इस बीच मामले को लेकर भाजपा के आला नेता प्रदेश सरकार और जिला प्रशासन पर तीखा हमला कर रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने जारी किए गए बयान में पुलिस अधीक्षक को तत्काल हटाए जाने की मांग की है। वहीं पार्टी के प्रदेश संगठन मंत्री प्रबल प्रताप सिंह जूदेव ने इसे शासन और प्रशासन की विफलता बताया है।

सुरक्षा के कड़े इंतजाम

मृतक गौरव के अंतिम संस्कार और बंद को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने पत्थलगांव सहित पूरे जिले में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। पत्थलगांव में भारी संख्या में पुलिस के जवानों के साथ अधिकारी तैनात कर दिए गए है। स्थिति पर कलेक्टर रितेश अग्रवाल और एसपी विजय अग्रवाल नजर बनाए हुए हैं।

यह है पूरी घटना

पत्थलगांव में शुक्रवार की दोपहर करीब एक बजे दुर्गा प्रतिमा विर्सजन को शोभायात्रा निकाली गई थी। सभी श्रद्धालु गाते-बजाते हुए जा रहे थे। उसी दौरान करीब पौने दो बजे आतिशबाजी के बीच वे सडक पर एक जगह रुके हुए थे कि पीछे से तेज गति से आ रहा वाहन क्रमांक एमपी 18 सी 5319 महिद्रा क्वांट्रो ने उन्हें जबदस्त ठोकर मार दी। इस घटना में एक श्रद्धालु 21 वर्षीय गौरव अग्रवाल की मौत हो गई। जबकि कई गंभीर रूप से घायल हो गए।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local