कोरबा। निर्वस्त्र अवस्था में एक महिला की लाश बुड़बुड़ नाला के पास रेत से ढंकी अवस्था में मिली है। माना जा रहा है कि यह मामला अनाचार के बाद हत्या किए जाने का है। अभी यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि मृतका कौन है और कहां की रहने वाली है। उम्र करीब 30 से 35 वर्ष के बीच आंकी गई है।

घटनास्थल के पास एक अंतःवस्त्र व सैंडल मिले हैं। पांच दिन पुरानी लाश होने के कारण आधा से ज्यादा सड़ गई है। पुलिस के पास पहचान करने के लिए केवल सैंडल है। बांगो थाना के अंतर्गत आने वाले सलिहाभांठा ग्राम पंचायत के बुड़बुड़ गांव में रहने वाला किसान विनोद करियाम शुक्रवार की सुबह खेत जुताई का काम कर रहा था। इस बीच उसे दुर्गंध का एहसास हुआ। वह खेत से लगे नाला के पास गया तो देखा रेत के नीचे लाश दबी थी।

अद्भुत नजारा : जब बादल खींचने लगे तालाब का पानी, देखें VIDEO

उल्टे पांव भागकर वह गांव लौटा और कोटवार को इसकी सूचना दी। मामले की गंभीरता को देखते हुए कटघोरा एसडीओपी संदीप मित्तल, तहसीलदार पसान गुरुदत्त मौके पर पहुंचे। अफसरों की उपस्थिति में दफन शव को बाहर निकाला गया। निर्वस्त्र अवस्था में महिला की लाश मिलने पर सनसनी फैल गई।

Korba Murder : हत्या के बाद निर्वस्त्र अवस्था में महिला की लाश दफनाई

बारिश होने से स्थल गीला था। कुछ बालू हटाने के साथ ही ऊपर से बालू डालकर शव को दफनाने की कोशिश की गई थी। पुलिस अभी यह तय नहीं कर सकी है कि महिला के साथ अनाचार करने के बाद घटनास्थल पर ही हत्या कर शव को दफनाया गया है या फिर घटनास्थल कहीं और है। केवल यहां शव लाकर दफना दिया गया है। इन बिंदुओं के अलावा और भी कई ऐसे महत्वपूर्ण बिंदु है, जिन पर पुलिस जांच कर रही। महिला कहीं अनाचार का शिकार तो नहीं हुई, इसका खुलासा पोस्टमार्टम के बाद ही हो सकेगा।

Ramayana Circuit : यहां से गुजरे थे प्रभु राम, अब पदचिह्नों की कथा बताएगा पर्यटन मंडल

पुलिस के सामने पहचान की चुनौती

पुलिस के सामने सबसे बड़ी चुनौती मृतका की पहचान करने की है। आमतौर पर कपड़े घटनास्थल से बरामद होने पर पहचान कार्रवाई में आसानी होती है। चेहरा विभत्स हो गया है, इसलिए एक बार में पहचान होना मुश्किल है। आसपास के क्षेत्र में लापता महिला की जानकारी ली गई, लेकिन पुलिस के हाथ कोई सफलता नहीं लग सकी।

एक हाथ में आरएस व दूसरे में लिखा है ओम

मृतका के बाएं हाथ में गोदना से आरएस लिखा हुआ है। दाएं हाथ में ओम का निशान है। यही पुलिस के लिए महत्वपूर्ण सुराग है। इसके माध्यम से ही लापता महिलाओं की सूची तैयार की जा रही और उनके परिजनों से हाथ में लिखे इन शब्दों की तस्दीक की जा रही।

नवविवाहिता से दुष्कर्म, फिर शादी का झांसा देकर कराया तलाक, प्रेग्नेंट होने पर छोड़ा

मृतका बाहर की होने की संभावना

पुलिस को लग रहा है कि मृतका कोरबा जिले की नहीं बल्कि बाहर की है। माथे पर चोट के निशान है। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि सिर पर किसी भारी वस्तु से हमला कर हत्या की गई है, उसके बाद शव को दफनाया गया है। एनएच मार्ग में इस तरह की ओर भी घटनाएं पहले हो चुकी है।

युवती की लाश लटकाने का नहीं हो सका खुलासा

वर्ष 2017 में कटघोरा शहर से लगे रामपुर गांव के रेशम बाड़ी में एक युवती की फांसी पर लटकी लाश मिली थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से स्पष्ट हुआ था कि अनाचार के बाद गला घोंटकर हत्या की गई थी। हत्या के इस मामले को आत्महत्या साबित करने फंदे पर शव को लटका दिया गया था। दो साल गुजर जाने के बाद भी मृतका की पहचान नहीं हो सकी है। हत्यारे तक पहुंचना तो दूर की बात है। पुलिस अब गंभीर मामले को भूल चुकी है। फाइल थाने में धूल खा रही और जांच बंद कर दिया गया है।