रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। Helo Naidunia: बिजली, पानी और सड़क जैसी बुनियादी सुविधाओं से हमारा रायपुर जल्द ही पूर्ण विकसित हो जाएगा। सरकार मिशन मोड पर काम कर रही है। शहर की सात प्रमुख सड़कों को स्मार्ट रोड की तर्ज पर विकसित करने का काम चल रहा है। शहर में 24 घंटे पेयजल की एक बड़ी समस्या है, जिससे आम जन को जल्द ही छुटकारा मिलेगा।

हम 24 घंटे जल आपूर्ति योजना पर काम कर रहे हैं। यह कहना है कि रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अतिरिक्त प्रबंध संचालक व आइएएस चंद्रकांत वर्मा का। वह मंगलवार को हेलो नईदुनिया कार्यक्रम में आम जनता के सवालों के बड़ी ही वेबाकी से जबाव दे रहे थे। इस दौरान उन्होंने कई सवालों पर त्वरित निदान के लिए भी निर्देश जारी किए।

पेश हैं सवाल-जवाब के प्रमुख अंश

सवाल: स्मार्ट सिटी के नाम पर पेड़ काट दिए गए हैं। जितने पेड़ कटे हैं, क्या उतने पौधे लगाए जाएंगे?

-जया दुबे, डीडी नगर

जवाब: पौधे लगाने का काम लगातार चल रहा है। मरीन ड्राइव, नया बस स्टैंड आदि जगहों में पौधे लगाए जा रहे हैं।

सवाल: बारिश में चौबे कालोनी और समता कालोनी में जलभराव हो जाता है, जिससे लोगों का जीना दुश्वार हो जाता है। समस्या का हो रहा है कि नहीं?

- रजनी शर्मा, समता कालोनी

जवाब: जल भराव वाले इलाके को चिह्नित कर काम किया जा रहा है। दूसरे चरण में इन इलाकों में भी काम किया जाएगा।

सवाल: स्मार्ट सिटी के तहत नवा रायपुर में विश्वविद्यालय बनवाने की कोई योजना है?

-बीएल सोनकर

जवाब: नवा रायपुर में अलग स्मार्ट है, जो अपना काम कर रही है। यह वही लोग बता पाएंगे।

सवाल: बारिश में नाली जाम हो गई है। स्कूल में पानी भर आया है। परेशानी कब दूर होगी?

-विजय खंडेलवाल, प्रिंसिपल दानी स्कूल

जवाब: मैं तुरंत इसे दिखवाता हूं।

सवाल: शास्त्री बाजार, मालवीय रोड में चार फीट की दुकान रहती है और आठ फीट तक बाहर कब्जा रहता है, जिससे अक्सर जाम लगता है। सामान जब्ती का अभियान चलाना चाहिए कि नहीं?

-एमआर गिरेपुंजे, माना बस्ती

जवाब: अवैध रूप से सड़क पर कब्जा करने वालों पर समय-समय पर कार्रवाई होती रहती है। इस संबंध में नगर निगम से बात करता हूं।

सवाल: धमतरी शहर स्मार्ट सिटी के अंतर्गत आ सकता है क्या?

-दिलेश्वर कुमार साहू, धमतरी

जवाब: यह भारत सरकार तय करती है। समय-समय पर नगरीय निकायों के बीच प्रतिस्पर्धा आयोजित की जाती है। प्रतिस्पर्धा में जीतने वालों को स्मार्ट सिटी में शामिल किया जाता है।

सवाल: मेरे घर के सामने 11 केवी का ट्रांसफार्मर है। उसे भी चारों तरफ से लोहे के एंगल से घेर दिया जाता तो बेहतर होता। इसके लिए क्या करूं?

-कुशल चंद्राकर, डीडी नगर

जवाब: स्मार्ट सिटी में एक आवेदन दे दीजिए, फिर मैं उसको मैं करवाता हूं।

सवाल: रायपुर को स्मार्ट सिटी की तर्ज पर विकसित किया जा रहा है, लेकिन ड्रेनेज सिस्टम की व्यवस्था नहीं है। बारिश में नालियां चोक हो रही हैं? हालात कैसे सुधरें?

-विजय इसीकर, अग्रसेन चौक

जवाब: तेलीबांधा में ड्रेनेज सिस्टम की समस्या का निराकरण किया जा रहा है। दूसरे चरण में सर्वे का काम कर इन इलाकों में भी काम किया जाएगा।

सवाल: विवेकानंद आश्रम के पास गली-मोहल्ले में साप्ताहिक बाजार लगता है। इस कारण वहां अक्सर जाम की स्थिति बनी रहती है? जाम से मुक्ति कैसे मिले?

-राहुल यदुवंशी, रायपुर

जवाब: रायपुर में यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए सड़कों पर सिग्नल लगा दिया गया है। इसके साथ ही लगातार यातायात पर नजर रखी जा रही है। छोटी-छोटी सड़कों पर पुलिस विभाग द्वारा काम किया जा रहा है।

सवाल: धरना स्थल सड़क से नीचे हो गया है। इसके साथ ही निगम वहां कचरा डंप करवा रहा है। इस कारण धरना स्थल पर बैठना मुश्किल हो जाता है। क्या किया जाए?

-प्रदीप मिश्रा, रविशंकर विश्वविद्यालय

जवाब: निगम से बात करके बेहतर व्यवस्था करवाते हैं।

सवाल: शहर में बेतरतीब तार फैले हैं, दो तीन साल से अखबारों में पढ़ रहे हैं कि जल्द समस्या दूर होगी, लेकिन अभी तक काम शुरू नहीं हुआ? काम कब शुरू होगा?

-प्रदीप शेष, तात्यापारा

जवाब: राजधानी में स्मार्ट रोड के साथ ही अंडर ग्राउंड केबलिंग का काम किया जाएगा। इसी माह के अंत तक इसका टेंडर जारी कर दिया जाएगा।

सवाल: स्मार्ट सिटी का दावा कर रहे हैं, लेकिन स्वच्छ वातावरण नहीं दे पा रहे हैं? ऐसा क्यों?

-डा. रविन्द्र ब्रम्हे, रविशंकर विश्वविद्यालय

जवाब: रायपुर में प्रदूषण पहले ज्यादा था, लेकिन वर्तमान में कम है। वर्तमान में शहर में एयर क्वालिटी इंडेक्स के माध्यम से डाटा कलेक्ट किया जा रहा है। प्रदूषण को कंट्रोल करने को लेकर काम किया जा रहा है।

सवाल: क्या स्मार्ट आर्ट स्कूल भी खोला जाएगा, जहां खेलकूद समेत अन्य सुविधाएं हों?

-दीपू तिवारी, बजरंग नगर, रायपुर

जवाब : आरडी तिवारी स्कूल समेत अन्य स्कूलों में खेलकूद गतिविधियों के लिए विशेष व्यवस्थाएं की जा रही हैं। बच्चों के स्किल को बढ़ावा देने के लिए शिक्षा के साथ इन व्यवस्थाओं को भी बढ़ाया जाएगा। प्रस्ताव आने पर इसपर जरूर काम शुरू होगा।

सवाल: बूढ़ातालाब के पास धरना स्थल के समीप कचरा खुले में फेंक रहे है। यहां पर 100 से अधिक संगठन मांगों को लेकर प्रदर्शन करते रहते हैं। समस्या आ रही है। इसका निदान कैसे होगा?

-वीरेंद्र दुबे, रायपुर

जवाब : साफ-सफाई की व्यवस्था प्रशासन देख रहा है। स्मार्ट सिटी की तरफ से वहां सार्वजनिक शौचालय बनाया गया है। इस क्षेत्र को बेहतर करने के लिए कोई प्रस्ताव आएगा तो हमारी तरफ से जरूर कार्य किया जाएगा।

सवाल: दो दिन की बारिश में शहर के कई इलाकों में पानी भर गया। व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए क्या कार्रवाई की जा रही है?

-मधु पांडेय, रायपुर

जवाब : व्यवस्थाओं को सुधारने के लिए प्रशासन लगातार कार्य कर रहा है। स्मार्ट सिटी की तरफ से आने वाले समय के लिए योजनाएं बनाई जा रही हैं, ताकि शहर में जलभराव की समस्या न रहे।

सवाल: सिंगल यूज प्लास्टिक बाजार में धड़ल्ले से सामने आ रहे हैं। भारी मात्रा में इधर-उधर बिखर रहे, नालियों को भी जाम कर रहे हैं। इस समस्या से कैसे निजात पाएं?

-सुरेंद्र बैरागी, रायपुर

जवाब : प्लास्टिक पर रोक लगाने के लिए दो तरह से काम होना जरूरी है। प्रशासन की तरह से प्रतिबंध व रोक और लोगों द्वारा खुद भी जागरूक होना होगा। प्रशासन प्रतिबंध लगाने के अलावा जागरूकता कार्यक्रम चलाकर लोगों को प्लास्टिक का उपयोग न करने की अपील करता रहता है। जब तक लोग जागरूक नहीं होंगे, डिमांड करना बंद नहीं करेंगे, इस अभियान को सफल बनाना मुश्किल होगा।

सवाल: शहर में महिलाओं के लिए सार्वजनिक शौचालयों की समस्याएं आ रही है। इस पर क्या काम चल रहा है?

-डा. स्मृति शर्मा, रायपुर

जवाब : स्मार्ट सिटी को डेवलप करने की योजनाओं में महिलाओं की सुविधाओं को हर स्तर पर प्रमुखता दी जा रही है। हमने सैंपल के तौर पर शहर के तीन-चार जगहों में पिंक टायलेट बनाया है। इसकी संख्या जल्द ही बढ़ाई जाएगी। साथ ही साफ-सफाई पर भी पूरा ध्यान दिया जाएगा।

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local