रायपुर। Raipur News : आरएसएस ने प्रांत ईकाई में बदलाव किया है। इसको लेकर अब सियासत शुरू हो गई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी तंज कस दिया है। सोमवार को मीडया से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने आरएसएस में बदलाव को छत्तीसगढ़ियावाद से जोड़ दिया है। आरएसएस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि बिसरा राम जी छत्तीसगढ़ के स्थानीय व्यक्ति थे।

छत्तीसगढ़ के व्यक्ति को हटाकर नागपुर से जुड़े व्यक्ति को छत्तीसगढ़ की जिम्मेदारी दी गई है। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि छत्तीसगढ़ के लोग आरएसएस में अफवाह फैलाने का माध्यम बनकर रह गए हैं। छत्तीसगढ़ के आरएसएस कार्यकर्ता नागपुर के बंधुआ मजदूर हैं। सीएम के बयान को लेकर विपक्ष ने भी भौं तान दी है। अधिकारिक प्रतिक्रिया अब तक नहीं दी गई है।

दूसरी ओर छत्तीसगढ़ के कांग्रेस नेताओं को राष्ट्रीय स्तर पर जिम्मेदारी मिलने पर मुख्यमंत्री ने कहा-हम लोग पार्टी के सच्चे और अच्छे कार्यकर्ता हैं। छत्तीसगढ़ के कांग्रेस नेताओं को पार्टी नेतृत्व के द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर जिम्मेदारी देकर मान सम्‍मान दिया जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि हम पार्टी के कार्यकर्ता हैं, इसलिए अवसर दिया जाता रहा है।

ज्ञात हो कि पार्टी नेतृत्व ने मुख्यमंत्री बघेल को असम विधानसभा चुनाव का आब्जर्वर नियुक्त किया है और प्रदेश के युवा नेता एवं रायपुर पश्चिम के विधायक विकास उपाध्याय को असम का प्रदेश प्रभारी बनाया है। विकास उपाध्‍याय कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव की भी जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। इसके अलावा छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू को गुजरात में होने वाले स्थानीय निकाय चुनाव अभियान और समन्वय की निगरानी के लिए सीनियर आब्जर्वर बनाया गया है।

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close