रायपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। अगर आप सारनाथ एक्‍सप्रेस ट्रेन से सफर करने वाले हैं तो यह खबर आपके लिए है। दरअसल, सारनाथ एक्‍सप्रेस ट्रेन आज और कल यानि 29 मई और 30 मई को परिवर्तित मार्ग से चलेगी। रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार उत्तर मध्य रेलवे के प्रयागराज रेल मंडल के अंर्तगत ट्रैफिक ब्लाक, प्वाइंट बदलने और सिंगल स्टिप डायमंड क्रास के नवीनीकरण का कार्य 30 मई को किया जाना है।

इसके चलते 29 मई को दुर्ग से चलने वाली 15160 दुर्ग-छपरा सारनाथ और 30 मई को छपरा से चलने वाली 15159 छपरा-दुर्ग एक्सप्रेस नियमित मार्ग मानिकपुर जंक्शन, प्रयागराज जंक्शन के स्थान पर परिवर्तित मार्ग मानिकपुर जंक्शन-प्रयागराज छिवकी-बधारी कलां-वाराणसी जंक्शन होकर चलेगी।

बतादें कि सारनाथ एक्‍सप्रेस छत्‍तीसगढ़ के दुर्ग से चलकर मध्‍य प्रदेश के कटनी, सतना सहित उत्‍तर प्रदेश के प्रयागराज, वाराणसी होते हुए बिहार के छपरा जिला तक जाती है।

यात्रियों के लिए राहत भरी खबर

इधर, शादी के सीजन में 33 ट्रेनों के रद होने के बाद यात्रियों के लिए राहत भरी खबर है। 26 माह बाद अब यात्री जनरल टिकट लेकर एक्सप्रेस ट्रेन में सफर कर सकते हैं। रेलवे प्रशासन रायपुर से चलने वाली पांच एक्सप्रेस ट्रेन संपर्क क्रांति, सारनाथ एक्सप्रेस, दुर्ग जम्मूतवी, साउथ बिहार एक्सप्रेस और दुर्ग नौतनवा एक्सप्रेस में जनरल टिकट की सुविधा बहाल की है। इन पांचों ट्रेनों में एक-एक जनरल कोच लगाने की व्यवस्था की गई है, जिसमें यात्री जनरल टिकट लेकर यात्रा कर सकेंगे।

रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार एक जुलाई से सभी ट्रेनों में जनरल टिकट की व्यवस्था शुरू हो जाएगी, वहीं पांच ट्रेनों में अलग-अलग तारीखों में यह सेवाएं शुरू की जाएंगी। उल्लेखनीय है कि मुंबई-हावड़ा मार्ग पर स्थित रायपुर रेलवे स्टेशन से एक दिन में 112 ट्रेनें और करीब 50 हजार यात्री सफर करते हैं। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए रेलवे प्रशासन 20 मार्च, 2020 से जनरल टिकट लेकर यात्रा करने पर प्रतिबंध लगा दिया था।

26 माह बाद पांच ट्रेनों में जनरल बोगी

जानिए कब से जनरल टिकट लेकर ट्रेन में कर सकेंगे सफर

- संपर्क क्रांति एक्सप्रेस में दो से 30 जून तक

- दुर्ग जम्मूतवी एक्सप्रेस में 14 से 28 जून तक

- सारनाथ एक्सप्रेस में एक से 30 जून तक

- साउथ बिहार एक्सप्रेस में एक से 30 जून तक

- दुर्ग-नौतनवा एक्सप्रेस में एक से 29 जून तक

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close