रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। Crime News: डीडी नगर थाना क्षेत्र में रोजगार कार्यालय की आड़ में नौकरी बेचने का खेल चल रहा था। इसकी शिकायत थाने में की गई है। शिकायत के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। 10 युवकों ने थाने में शिकायत की है। प्रत्येक से 35 हजार रुपये लिए गए हैं। मिली जानकारी के अनुसार, 100 से ज्यादा युवा बेरोजगारों को नौकरी दिलवाने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी की गई है।

जब युवकों को नौकरी नहीं मिली तो उन्होंने डीडी नगर थाने में इसकी शिकायत दर्ज करवाई। शिकायत के बाद पुलिस ने जांच शुरू की। आरसीडीएसपी नामक कंपनी द्वारा बेरोजगारों को नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी का खेल तकरीबन तीन साल से चल रहा था। बेरोजगारों को शासकीय और अर्धशासकीय पदों पर नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों रुपये वसूलने का आरोप है।

रोजगार कार्यालक से विज्ञापन निकला

प्राथी मधुकर सिंहा अभनपुर निवासी और पीयूष वर्मा ने बताया कि रोजगार कार्यालय से आरसीडीसीएसपी में नौकरी के लिए विज्ञापन निकला था। ग्रामीण बस्ती बाल विकास योजना कार्यक्रम कंप्यूटर टीचर, ब्लाक फील्ड कोऑर्डिनेटर और डिस्ट्रिक्ट फील्ड इंचार्ज की नौकरी का विज्ञापन था, जिसके लिए आवेदन किया।

उसे एक दिन का प्रशिक्षण दिया गया। इसके बदले में 35 हजार रुपये लिए गए। इसके बाद कहा गया कि जल्द ही ब्लॉक फील्ड कोऑर्डिनेटर के रूप में नियुक्त किया जाएगा। मगर, पांच महीने बीतने के बाद कहीं नौकरी नहीं मिली। अन्य लोगों से जब बात की गई तो उनके साथ भी ऐसा ही होना पाया गया। सभी को ठगी का अंदेशा हुआ तो उन्हें थाने में जाकर शिकायम दर्ज करवाई।

भरोसा जीतने के लिए सरकारी विभाग से मिलते जुलते पद

बेरोजगार युवकों का भरोसा जीतने के लिए एक दिवसीय कार्यशाला प्रशिक्षण आयोजित करते थे। जिसके बाद प्रमाण पत्र जारी किया जाता था। इसमें बाकायदा तकनीकी व्यावसायिक एवं उच्च शिक्षा आरसीडीएसपी लिखा रहता था। सरकारी विभागों से मिलते जुलते नामों को जोड़कर पद लिखे जाते थे।

सालों से चल रही थी वेबसाइट

आरसीडीएसपी नाम की वेबसाइट लगभग तीन साल से चल रही है। इसको मुख्य रूप जेके देवांगन मैनेजिंग डायरेक्टर, एसके वर्मा, चीफ एक्जीक्यूटिव आफिसर, आर. सोनकर डायरेक्टर एजुकेशन, योगेंद्र नेताम फील्ड आफिसर, डीसी वर्मा पब्लिक रिलेशन संचालित कर रहे थे। जिनका नाम वेबसाइट में दर्ज है।

वर्जन

मामले की शिकायत प्राप्त हुई है। जांच में लिया गया है। जिनके ऊपर आरोप है उन्हें थाने बुलाकर पूछताछ की जाएगी। इसके बाद अग्रिम कार्रवाई होगी।

- योगिता खापर्डे, थाना प्रभारी, डीडी नगर

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local