राजनांदगांव। जिले में मछुआरे और ग्रामीणों के बीच विवाद का शिकार मछलियां हो गई। तालाब में जहर डालने से बड़ी संख्‍या में मछलियों की मौत हो गई।

जानकारी के अनुसार जिले के गंडई से लगे ग्राम पंचायत ढाबा में ग्रामीणों और मछुआरे का विवाद हो गया। इसके बाद किसी ने गांव के तालाब में जहर डाल दिया। मछली पालन के लिए एक ही मछुआरे को तालाब लीज पर देने के नाम पर गांव के कुछ लोगों से मछुआरे का विवाद था।

अज्ञात लोगों की इस हरकत से तालाब में मछलियां मर गई। शुक्रवार की सुबह जब गांव के लोग तालाब में निस्तारी के लिए पहुंचे तो तालाब के ऊपर मछलियां दिखी। इसके बाद लोगों ने ग्रामीणों को इसकी खबर दी। पुलिस को भी सूचना दी गई। इसके बाद तो प्रशासनिक अधिकारियों में हडकंप मच गया।

तहसीलदार प्रफुल्ल सिंह पुलिस अफसरों के साथ गांव पहुंचे और पानी का सैम्पल लेकर जांच के लिए भेजा। वहीं मामले को जांच में लेकर ग्रामीणों को तालाब के पानी का उपयोग नहीं करने की समझाइश दी गई। गांव के सरपंच हेमंत वर्मा ने कहा कि तालाब में जिसने जहर डाला है, उसे कड़ी सजा मिलनी चाहिए। गांव में निस्तारी के लिए एक ही तालाब है। इसका उपयोग नहीं करने से गांव में निस्तारी की समस्या बढ़ जाएगी।

Posted By: Hemant Upadhyay