हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के सबसे डायनेमिक और स्ट्रेटेजिक कॉलेबोरेशन में से एक, भूषण कुमार की टी-सीरीज़ ने 7 फिल्म के अलावा कई और फिल्मों की इंप्रेसिव स्लेट के साथ वकाओ फिल्म्स (विपुल डी शाह, राजेश बहल और अश्विन वर्दे) से हाथ मिलाया है। टी-सीरीज और वकाओ फिल्म्स संयुक्त रूप से इन फिल्मों का निर्माण करेंगे जिन्हें विभिन्न शैलियों में चिह्नित किया जाएगा और जिसमे बड़े बजट के टेंट पोल के साथ-साथ मध्यम और छोटे बजट की कंटेंट से भरपूर फिल्में भी शामिल हैं।

यह विशाल सहयोग दो प्रमुख फिल्म प्रोडक्शन हाउस को एक बड़े इन्वेस्टमेंट के लिए एक साथ ले कर आ रहा है जो विभिन्न शैलियों, प्रोडक्शन स्केल, टैलेंट और म्यूजिक से लेकर आगमी फिल्मों को सामने लाएगा।

फिल्मों की इन व्यापक लाइन-अप में से एक फिल्म पहले ही पूरी हो चुकी है और अगले 12 महीनों में 6 अन्य फिल्में शुरू हो जाएंगी। इन स्लेटो में मुदस्सर अजीज, शिवम नायर, अमित राय, आशीष आर मोहन, संजय पूरन सिंह चौहान, सतराम रमानी और गौतम वासुदेव मेनन के निर्देशन में बनी फिल्में शामिल हैं। दोनों कंपनियां अगले कुछ महीनों में प्रत्येक प्रोजेक्ट के लिए अलग-अलग घोषणाएं करेंगी।

टी-सीरीज के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक भूषण कुमार कहते हैं, “मैं वकाओ फिल्म्स के साथ हुए इस गठबंधन को लेकर बेहद उत्साहित हूं। हमारे पास अनोखी कहानी, दमदार अभिनेता और विश्वसनीय निर्देशकों के साथ कुछ वाकई दिलचस्प फिल्में हैं।” इसे जोड़ते हुए, वे कहते हैं, "हमारे बीच, ऐसे कॉन्टेन क्रिएट करने का विचार है जो दमदार और विश्वसनीय हो।"

ऑप्टिमीसटिक्स एंटरटेनमेंट के चेयरमैन और एमडी विपुल डी. शाह कहते हैं, “गुणवत्ता हमेशा से ही हमारी खूबी रही है। वकाओ फिल्म्स के बैनर तले हम अपने फिल्म व्यवसाय में भी यही हासिल करना चाहेंगे। T-Series और Wakaoo Films हम दोनों ही फिल्म निर्माण के प्रति एक समान जुनून साझा करते हैं। हमारे पास कुछ अद्भुत स्क्रिप्ट्स हैं और अपने विजनरी निर्देशकों के साथ हम उन्हें नेक्स्ट लेवल पर ले जाएंगे।

वकाओ फिल्म्स के अश्विन वर्दे कहते हैं, “यह लगभग घर वापसी जैसा है क्योंकि मैं अपनी पिछली फिल्म कबीर सिंह के लिए भूषण कुमार और टी-सीरीज़ के साथ काम कर चुका हूं। हम आने वाले समय में उसी मैजिक को दोहराने की उम्मीद कर रहे हैं। हमारे द्वारा प्रस्तुत किए जाने वाले विषयों की विशाल विविधता वास्तव में आकर्षक है।"

वकाओ फिल्म्स के राजेश बहल ने कहा कि "रणनीतिक दृष्टिकोण से, यह हम दोनों के लिए दीर्घकालिक आधार पर सहयोग करके महत्वपूर्ण पैमाने और मूल्य बनाने का एक अद्भुत अवसर है। संभावनाएं अनंत हैं और उद्योग पर इस गठबंधन का प्रभाव सर्वोपरि होगा।”

Posted By: Arvind Dubey