हिंदी फिल्म के इतिहास में दर्ज Sholay फिल्म को कोई भूला नहीं सकता है। 15 अगस्त, 1975 को रिलीज हुई इस फिल्म के एक सीन को हमेशा पसंद किया जाता है और वह है Dharmendra का 'सुसाइड सीक्वेंस'। रामगढ़ में पानी की टंकी पर चढ़कर बसंती का नाम लेते हुए वीरु के किरदार में शराब पीकर धर्मेंद्र ने धमाल कर दिया। इस सीक्वेंस में वह मौसी से बसंती के बारे में बोलता है और कहता है कि वह पानी की टंकी से कूदकर जान दे देगा।

शोले की यह पानी की टंकी अब कैसी दिखती है यह जानना दिलचस्प होगा। इस पानी की टंकी की जगह अब पक्की पानी की टंकी बना दी गई है जो कि उससे थोड़ी छोटी है। यह उसी जगह रिपलेस की गई है।

फिल्म में जिस गांव में फिल्म शूट हुई थी उसका नाम रामगढ़ था लेकिन अब नाम रामनगरम कर दिया गया है। गांव में और भी कई बदलाव हुए हैं और अब यह टूरिज्म स्पॉट बन गया है।

यहां सैकड़ों लोग सालभर आते हैं और यहां आकर फिल्म की शूटिंग के किस्से स्थानीय लोगों से सुनते हैं। फोटोग्राफी करते हैं। बता दें कि इस गांव में जाने के लिए बेंगलुरु से ट्रेन मिलती है जो कि रामनगरम रेलवे स्टेशन उतारती है। यहां शोले की झलकियां आपको सड़कों पर भी मिलेगी।

बता दें कि फिल्म में धर्मेंद्र के अलावा अमिताभ बच्चन, संजीव कुमार, अमजद खान, हेमा मालिनी और जया भादुड़ी थी। फिल्म को रमेश सिप्पी ने डायरेक्ट किया था। फिल्म को सलीम-जावेद ने लिखी थी।

इस फिल्म के डायलॉग्स खूब फेमस हुए थे और यहां आने वाले टूरिस्ट को इन्हें फिर सुनने का मजा भी मिलता है। इस फिल्म की शूटिंग रामनगरम के चट्टानी इलाकों में ढाई साल तक चली थी। बता दें कि गब्बर सिंह के किरदार को उसी नाम के एक असली डाकू पर बनाया गया था, जिसका 1950 के दशक में ग्वालियर के आसपास के गांवों में आतंक था।

Posted By: Sonal Sharma