कैरेक्टर आर्टिस्ट Jagdeep Jaffrey ने दो शादियां की थीं लेकिन उन्होंने पहली पत्नी को इस कदर छोड़ा था कि फिर उसकी तरफ कभी मुड़कर नहीं देखा। अबोले क आलम यह था कि लगभग दस पहले जब Javed Jaffrey के सौतेले भाई यानी जगदीप के सबसे बड़े बेटे की मौत मुंबई के जेजे अस्पताल में हुई तो कोई उस परिवार से मिलने नहीं गया था। जगदीप के सबसे बड़े बेटे का नाम हुसैन जाफरी था जो गले में हुए इंफेक्शन की वजह से 2009 में नहीं रहे थे। जगदीप की पहली पत्नी के तीन बच्चे थे, उनकी दो बेटियां भी हैं।

जगदीप की पहली पत्नी का नाम बेगम है। उन्होंने अपने बेटे की मौत के बाद 'मिड डे' से बात की थी। तब बेगम ने कहा था 'मैं जावेद और नावेद से नाराज नहीं हूं। लेकिन उनके पिता जगदीप से गुस्सा हूं कि उन्होंने हमें इस कदर छोड़ दिया। उन्हें अपने बेटे को देखने के लिए आना चाहिए था। आखिर मैं उनकी पहली पत्नी हूं। मेरा बेटा दर्द में मरा और उसे देखने वाला कोई नहीं था।'

बेगम के परिवार ने जगदीप के अलग होने के बाद काफी बदहाली झेली। उनके सबसे बड़े बेटे हुसैन कारों को धोकर अपना जीवन चलाते थे। 2006 में हुए ट्रेन एक्सिडेंट में अपने दोनों पैर खो देने के बाद उन्होंने भीख मांगना शुरू कर दिया था।

बेगम ने बताया था 'बांद्रा की मस्जिद में हुसैन अक्सर जावेद से टकराता था और पैसे मांगता था। जावेद ने कभी उसे अपने भाई जैसा नहीं समझा, हमेशा भिखारी माना। उन्होंने कभी हमें भी परिवार नहीं माना।' उस वक्त 'मिड डे' ने जावेद जाफरी से बात करने की कोशिश की थी तो जावेद का जवाब था 'मैं शहर से बाहर हूं और मेरा कोई सौतेला भाई नहीं है'।

बता दें कि जगदीप के दोनों बेटे जावेद और नावेद, टीवी पर लगभग एक दशक तक राज करते रहे। दोनों ने उस दौर में काफी शो किए जब भारत में सेटेलाइट टीवी का दौर शुरू हो रहा था और नए चैनल आ रहे थे।

Posted By: Sudeep Mishra

  • Font Size
  • Close