बुधवार दोपहर जब दूरदर्शन ने एक बजे The Jungle Book दिखाई तो लोग आश्चर्य में पड़ गए। इस शो का मशहूर गाना जिसे Amol Sahdev ने दिखाया था वो तो बजा ही नहीं। फिर दोपहर से यह ट्विटर पर ट्रेंड चल पड़ा जिसमें 'जंगल जंगल बात चली है' गाने की चर्चा होने लगी। लोग दुखी भी हैं ये गाना फिर सुनने को नहीं मिल रहा है। इसी चर्चा में इसके गायक का अमोल सहदेव का नाम भी चर्चा में आ गया। अमोल ने जब इस गाने को गाया था तब वो महज दस साल के थे और चौथी क्लास में पढ़ते थे।

अंग्रेजी पोर्टल 'स्कूपवूप' ने उनसे लगभग चार साल पहले बात की थी, उसी के अंश हम आपको बता रहे हैं। उस वक्त उन्होंने कहा था 'मैं तब दस साल का था। चौथी क्लास में पढ़ता था। मैं संगीतकारों के परिवार से था लेकिन उस वक्त इस बतौर करिअर नहीं देखा जाता था। मेरे पिता आलोक सहदेव आईआईटी ग्रेजुएट थे और ट्रेंड क्लासिकल सिंगर थे जिन्होंने टिप्स कंपनी के लिए काफी काम किया। विशाल और रेखा भारद्वाज हमारे पारिवारिक मित्र थे। एक बार विशाल सर ने मुझे गाना गाते सुना और तय कर लिया कि वो मुझसे ही टाइटल ट्रैक गवाएंगे।'

रिकॉर्डिंग की बात याद करते हुए वो कहते हैं 'मेरी उम्र के चार बच्चे थे और मैं लीड सिंगर था। यह गाना एक ही दिन में रिकॉर्ड हो गया था। मुझे याद है कि विशाल और गुलजार सर ने किस तरह प्रेम से हमसे यह गाना गवाया था। मैं नर्वस था और मुझे इन बोल का मतलब कुछ भी समझ नहीं आ रहा था लेकिन फिर भी मुझे मजा आया था।'

अमोल को लगता है कि उस वक्त सोशल मीडिया होता तो वो आज ज्यादा मशहूर होते। उस वक्त तो केवल दूरदर्शन ने ही उनका 'सुबह सबेरे' में इंटरव्यू किया था और ये वीडियो भी आज वेब पर उपलब्ध नहीं है।

Posted By: Sudeep Mishra

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना