अहमदाबाद। एक लड़की ने ऊंची जाति के एक लड़के से प्यार किया। सामाजिक गुस्से से बचने के लिए दोनों वहां से भाग निकले और उन्होंने शादी कर ली। अब अपने प्यार को बचाने के लिए अपने घरवालों से लड़ रहे हैं।

आमतौर पर ऐसा भारत में कई जगहों पर होता है, लेकिन यह कहानी अलग है। यहां लड़की की लड़ाई सिर्फ परिवार से ही नहीं बल्कि सदियों से यहां चली आ रही गांव की एक परंपरा से भी है। दरअसल, गुजरात का वाडिया गांव में लगभग हर लड़की को 13 साल की उम्र से ही वेश्यावृत्ति के धंधे में धकेल दिया जाता है।

लेडी डॉन ने कहा ग्लैमरस फोटो दिखाओ, पहुंच गई सलाखों के पीछे

ऐसे में लड़की का विद्रोह करना और अपनी पसंद के लड़के से शादी करना बड़ी बात है। यह सुरक्षा की मांग कर रहा है, क्योंकि गांव वाले नहीं चाहते कि उनका शादीशुदा जीवन आराम से चले। घर वालों के साथ ही समाज के लोग भी इस शादी को लेकर नाराजगी जाहिर कर चुके हैं।

ग्रामाणों का मानना है कि अगर इनकी शादी सफल हो गई, तो यह गांव की बाकी लड़कियों को भी ऐसा ही करने के लिए उकसाएगी। ऐसा होने पर यहां चलने वाले वेश्यावृत्ति का धंधा ही खत्म हो जाएगा।

रियो ओलिंपिक से लौटी महिला हॉकी खिलाड़ियों को ट्रेन के फ्लोर में बिठाया

इसलिए गांव वाले उनकी जान के दुश्मन बने हुए हैं। ऐसे में यह सवाल उठ रहा है कि क्या इनकी प्रेम कहानी सदियों पुरानी इस परंपरा को तोड़ पाएगी। साराणिया जाति के बसाए हुए इस गांव में कई सालों से विकास के लिए काम किए जा रहे हैं। मगर, उनका कोई खास प्रभाव इस गांव और यहां के ग्रामीणों पर नहीं पड़ा है।

इस मामले में बनासकांठा के एसपी नीरज बड़गुजर ने कहा कि हमारे पास अभी तक ऐसी कोई शिकायत नहीं आई है। अगर ऐसा होता है, तो पुलिस दोनों को सुरक्षा देगी। इसके साथ ही यदि वे चाहें, तो एफआईआर भी दर्ज करा सकते हैं।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket