Bhopal Railway News: भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। साफ-सुथरी ट्रेनें और स्टेशन रेलवे की ही नहीं, आपकी भी छवि बनाएंगे। माहौल स्वच्छ होगा तो यात्रा भी सुरक्षित तरीके से पूरी होगी। माहौल अच्छा होगा। आपकी जागरुकता से यह संभव है। यदि आप सहयोग नहीं करेंगे, रोकेंगे, टोकेंगे नही तो एक ट्रेन और एक स्टेशन को सफाईकर्मी चौबीस घंटे साफ-सुथरा ही रख पाएंगे। इस काम में आपका सहयोग चाहिए। रेलवे के अधिकारी, कर्मचारी स्वच्छता पखवाड़ा के तहत यह समझाइश रेल यात्रियों को दे रहे हैं। यह पखवाड़ा 16 से 30 सितंबर तक मनाया जा रहा है। इसके तहत प्रतिदिन अलग-अलग गतिविधियां की जा रही है। जिसमें नामांकित अधिकारी, कर्मचारी हिस्सा ले रहे हैं।

भोपाल रेल मंडल के डीआरएम सौरभ बंदोपाध्याय ने बताया कि रेलवे की कोशिशें स्टेशनों और ट्रेनों को चौबीस घंटे साफ-सुथरा रखने की है। रेल प्रबंधन यह कोशिशें करता है और सफल भी होता है लेकिन कई बार तमाम कोशिशों के बावजूद कमियां नजर आती है। जैसे कि डस्टबिन के अलावा कचरा ट्रेनों के अंदर कोच में फेंक दिया जाता है, शौचालय के फ्लश नहीं चलाए जाते हैं। नलों की टोटियां खुली छोड़ दी जाती है, पानी फैलता है। ये छोटी-छोटी बातों को ध्यान में रखकर हम बड़ा काम कर सकते हैं। ट्रेनों के अंदर और स्टेशनों पर खुद के लिए साफ-सुथरा माहौल बना सकते हैं। ऐसे माहौल में सफर करने के अपना अलग आनंद होगा। डीआरएम के मुताबिक इन सावधानियों से राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर रेलवे की छवि सुधरेगी। यह अकेले रेलवे का सम्मान नहीं बढ़ागी, बल्कि सभी नागरिकों का भी सम्मान बढ़ाएगी। डीआरएम ने बताया कि स्वच्छता पखवाड़ा में ज्यादा से ज्यादा यात्रियों तक पहुंचने की कोशिशें कर रहे हैं, उनका सहयोग मांग रहे हैं। सामाजिक संगठनों की भी मदद ली जा रही है। रेलवे की पूरी टीम पखवाड़े के तहत प्रत्येक दिन अलग-अलग गतिविधियां चला रहे हैं।

आज हो रही खानपान यूनिटों की जांच

स्वच्छता पखवाड़ा के तहत शुक्रवार को भोपाल, हबीबगंज, इटारसी और बीना समेत सभी स्टेशनों पर खानपान यूनिटों की जांच की जा रही है। पानी की गुणवत्ता परखी जा रही है। खानपान सामग्रियों की एक्सपायरी अवधि जांची जा रही है। इस काम में मंडल के दर्जनों अधिकारी और कर्मचारी लगे हुए हैं। इन सभी गतिविधियों की समीक्षा भी होती है।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local