रवींद्र कैलासिया

भोपाल। बिल्डर के इनकम टैक्स असेसमेंट में पैनाल्टी लगाने की धमकी देकर 25 लाख की रिश्वत मांगने वाली इनकम टैक्स की डिप्टी कमिश्नर पूनम राय के पति और बीजेपी चुनाव प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय सह संयोजक गणेश मालवीय को भी सीबीआई ने गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी के बाद जब प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय संयोजक आर रामकृष्णा से कार्रवाई को लेकर पूछा गया तो उन्होंने कहा कि सुबह जानकारी मिली है और कार्रवाई हमारा कोर ग्रुप करेगा।

गणेश मालवीय बीजेपी नेता विक्रम वर्मा के विश्वस्त बताए जाते हैं। वर्मा जब केंद्रीय मंत्री थे तब वे उनके मंत्री स्टॉफ में हुआ करते थे। इसके बाद भी वे बीजेपी में सक्रिय रहे। यदाकदा वे अपनी पत्नी के इनकम टैक्स अधिकारी होने का रौब पार्टी नेताओं पर दिखाते रहे।

गणेश मालवीय को पार्टी जिला या प्रदेश नहीं बल्कि राष्ट्रीय स्तर के प्रकोष्ठ में शामिल कर लिया। वे इस समय चुनाव प्रकोष्ठ जैसी महत्वपूर्ण इकाई में सह संयोजक हैं जिसके प्रमुख रिटायर्ड आईएएस अफसर आर रामकृष्णा हैं। चुनाव प्रकोष्ठ में रामकृष्णा की टीम में चार सह संयोजक हैं। इनमें दो वकील पीडी गुप्ता और राजन खोसला हैं। दो अन्य में एक गणेश मालवीय और दूसरे बंगलौर के एमएच श्रीधर हैं।

गणेश की पत्नी पूनम के 25 लाख रुपए रिश्वत मांगने और 18 लाख रुपए पर सौदा फायनल होने से लेकर 10 लाख रुपए की रिश्वत लेते पकड़े जाने की खबर दिल्ली में बैठे बीजेपी के नेताओं को रात को ही लग चुकी है। इसको लेकर जब चुनाव प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय संयोजक रामकृष्णा से दिल्ली में मोबाइल पर बात की गई तो उन्होंने कहा कि सुबह ही यह जानकारी लगी है। उच्च स्तर पर इसको लेकर चर्चा चल रही है। गणेश के खिलाफ कार्रवाई कोर ग्रुप ही करेगा।

अब बीजेपी ने साइट से हटाया नाम

बीजेपी की अधिकृत साइट bjp.org के आर्गेनाइजेशन सब हेड के नेशनल सेल्स के इलेक्शन सेल में गणेश मालवीय का नाम दोपहर तक सह संयोजक के रूप में दर्ज था, जो दोपहर 4 बजे अचानक हटा दिया गया।

मोदी के लिए इकट्ठा कर रहे थे चुनावी चंदा:दुबे

कांग्रेस के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता अभय दुबे का कहना है कि पूनम राय और गणेश मालवीय नरेंद्र मोदी के लिए चुनावी चंदा इकट्ठा कर रहे थे। वे उद्योगपतियों और कारोबारियों को डरा धमकाकर मोदी के लिए चंदा ले रहे थे।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close