भोपाल। नवदुनिया स्टेट ब्यूरो। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लड़कियों की विवाह की आयु 18 से बढ़ाकर 21 किए जाने को लेकर जो बात रखी थी, उसको लेकर पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने अमर्यादित टिप्पण्ाी की है। उन्होंने यहां तक कह दिया कि बच्चियां 15 साल में विवाह (अमर्यादित शब्द) योग्य हो जाती हैं। क्या मुख्यमंत्री बड़े डॉक्टर हो गए हैं। पता नहीं किस गुफा से विवाह की आयु बढ़ाए जाने का तर्क लेकर आए हैं। वर्मा के बच्चियों के लिए उपयोग किए गए आपत्तिजनक शब्द पर भाजपा ने आपत्ति दर्ज कराते हुए कांग्रेस पार्टी से मांग की है कि उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। वर्मा सार्वजनिक तौर पर माफी भी मांगें।

प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में बुधवार को पत्रकारवार्ता के दौरान वर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री देश में एक नंबर का मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं। वे ऐसे पहले मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं जिन्होंने लड़कियों की विवाह योग्य आयु 21 साल करने की बात की है। तर्क है कि जब लड़कों की विवाह की आयु 21 साल है तो फिर लड़कियों की 18 साल क्यों होना चाहिए। पता नहीं वे यह विचार किस गुफा से खोजकर लाए हैं। मध्यप्रदेश में दो दिन पहले 13 साल की बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना हुई है। 18 साल की बच्चियां तो सरकार से संभल नहीं रही हैं, 21 साल की आयु करके क्या हासिल कर लेंगे।कोशिश यह होनी चाहिए कि लड़कियों के खिलाफ अपराध करने वालों के खिलाफ दमदारी से कार्रवाई हो। बच्चियों को सुरक्षित माहौल मिले।

वर्मा के लड़कियों की विवाह योग्य आयु के संबंध में अमर्यादित शब्दों के उपयोग पर भाजपा नेता पंकज चतुर्वेदी, प्रदेश प्रवक्ता राजो मालवीय, मीडिया पेनलिस्ट नेहा बग्गा ने आपत्ति दर्ज कराते हुए कहा कि मुख्यमंत्री बेटे और बेटियों के बीच के फर्क को खत्म करने की दिशा में प्रयत्नशील है। उन्होंने यह कहा है कि बेटे और बेटियों की विवाह योग्य आयु समान क्यों नहीं हो सकती है, इस पर सामाजिक बहस होनी चाहिए। पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी सहित अन्य नेताओं को स्पष्ट करना चाहिए कि उनकी बेटियों के प्रति क्या वही सोच है, जो सज्जन सिंह वर्मा की है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस