Railway News: भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। भोपाल समेत पश्चिम-मध्य रेलवे के 32 रेलवे स्टेशनों पर आने-जाने वाली ट्रेनों की जानकारी लेना यात्रियों के लिए अब और आसान हो गया है। इन स्टेशनों के 93 प्लेटफार्मों पर नए कोच गाइडेंस सिस्टम लगा दिए हैं। यह काम काफी दिनों से अधूरा था। उच्च क्षमता के डिस्प्ले लगाए गए हैं, जिन पर दूर से आने वाली ट्रेनों के नंबर व उनके कोच कहां खड़े होंगे, इसकी जानकारी मिल रही है। पूर्व में कम दृश्यता वाले डिस्प्ले बोर्ड लगाए जाते थे। उन्हें बदलकर नए और अधिक दृश्यता वाले डिस्प्ले बोर्ड लगाए हैं।

बता दें कि भोपाल मंडल के आठ स्टेशनों पर 30 प्लेटफार्म, जबलपुर मंडल के 12 स्टेशनों पर 32 प्लेटफार्म और कोटा मंडल के 12 स्टेशनों पर 31 प्लेटफार्म में नवीन कोच गाइडेंस सिस्टम (बोगी डिस्प्ले बोर्ड) लगाने का काम पूरा हो गया है।

इन स्टेशनों पर लगे डिस्प्ले

भोपाल मंडल:- भोपाल, बीना, इटारसी, हबीबगंज, विदिशा, होशंगाबाद, संत हिरदाराम नगर एवं हरदा स्टेशनों पर कोच गाइडेंस सिस्टम लगाए।

जबलपुर मंडल:- जबलपुर, मदन महल, नरसिंहपुर, गाडरवारा, पिपरिया, कटनी, सतना, रीवा, कटनी साउथ, कटनी मुड़वारा, दमोह एवं सागर स्टेशनों पर कोच गाइडेंस सिस्टम लगे।

कोटा मंडल:- कोटा, सवाई माधौपुर, गंगापुरसिटी, बयाना, भरतपुर, रामगंजमंडी, विक्रमगढ़ आलोट, शामगढ़, भवानीमंडी, श्रीमहाबीरजी, हिंडोनसिटी एवं सोगरिया स्टेशनों पर कोच गाइडेंस सिस्टम लगा दिए गए हैं।

यह होगा फायदा

- ट्रेनों के कोच की जानकारी मिलने से यात्री ट्रेनों के आने के पूर्व ही संबंधित स्थानों पर जाकर खड़े हो सकते हैं। जब जानकारी नहीं मिलती है, तब ट्रेन प्‍लेटफॉमर् पर आने के बाद यात्रियों में भागादौड़ी मचती है। खासकर जिन यात्रियों के साथे बच्चे व सामान होता है, उन्हें बहुत परेशान होना पड़ता है।

- ये डिस्प्ले दूर से दिखाई देते हैं, इसलिए ज्यादा भटकने की जरूरत नही होती है। पूर्व में लाल रंग से कोच संख्या व ट्रेन नंबर दिखाने वाले डिस्प्ले की दृश्यता क्षमता कम थी।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local