डबरा/पिछोर। नईदुनिया प्रतिनिधि

अज्ञात हमलावरों ने भैंसों की देखरेख के लिए खेत पर सो रहे गांव के चौकीदार 53 वर्षीय देवीराम पुत्र देवलाल बाथम की हत्या कर दी। बदमाश उसे धारदार हथियार से उसे मौत के घाट उतारकर भैंस चोरी कर ले गए। जब सुबह परिजनों ने देखा तो देवीराम खाट पर मृत अवस्था में मिला। तब मामले की सूचना पुलिस को दी गई। हत्या के बाद गांव में सुबह के समय सनसनी-सी फैल गई।

घटना मंगलवार-बुधवार की दरमियानी रात की है। पिछोर क्षेत्र के भगेह गांव निवासी देवीराम खेत पर सो रहा था, लेकिन आधी रात को कुछ अज्ञात बदमाश खेत पर पहुंचे और वहीं बंधी भैंसों को निकालकर ले गए। वहीं पास में खाट पर सो रहे देवीराम की अज्ञात बदमाशों ने धारदार हथियार से काटकर हत्या कर दी। चौकीदार की हत्या किए जाने के पीछे कयास लगाए जा रहे हैं कि बदमाशों द्वारा भैंसों को निकालते समय चौकीदार ने देख दिया होगा। इसके बाद उसकी हत्या कर दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच पड़ताल कर शव को पीएम के लिए भेजा। मृतक के शरीर पर कुल्हाड़ी के निशान नजर आ रहे थे। हत्या की जानकारी मिलते ही गांव में दहशत का माहौल हो गया था। दोपहर तक पुलिस जांच पड़ताल में जुटी रही।

बॉक्स

चार भैंस और एक पड़ा ले गए बदमाश

खेत पर भैंसों का डेरा था। यहां देवीराम चौकीदारी करता था। अज्ञात हमलावर हत्या की घटना की अंजाम देकर खेत पर बंधी चार भैंस और एक पड़ा खोलकर ले गए। गांव में चर्चाएं चलती रहीं कि शायद मृतक देवीराम ने बदमाशों को पहचान लिया होगा, इसलिए उन्होंने उसकी हत्या कर दी। घटना के बाद सुबह एडिशनल एसपी देहात सुरेंद्र सिंह गौर, डबरा एसडीओपी उमेश सिंह तोमर, गिजोर्रा थाना प्रभारी संतोष यादव, पिछोर थाना प्रभारी पप्पू यादव मौके पर पहुंच गए थे, जो घटना से जुड़े साक्ष्य जुटाते रहे। मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने घटना को लेकर कहा है कि हमलावर दो से अधिक हो सकते हैं। हो सकता है कि हमलावर चौकीदार का पहचान वाला या नजदीकी रहा होगा। इसलिए पहचाने जाने पर हत्या की घटना को अंजाम दे दिया। कई ऐसे पहलू हैं जिन पर पुलिस छानबीन कर रही है।

बॉक्स

मृतक गांव में था कोटवार

हत्या की जानकारी गांव में फैलते ही लोगों की भीड़ घटनास्थल पर जमा होती रही। जहां ग्रामीण और आसपास के लोग घटनास्थल पर पहुंच गए थे। लेकिन जब तक पुलिस मौके पर नहीं पहुंची, तब तक हालात दहशत भरे बने रहे। बताया गया है कि मृतक देवीराम गांव में कोटवार था, जो भैंसें पालने का काम भी करता था। इसकी भैंसें खेत पर ही बंधी रहती थी। वहां वह उनकी सुरक्षा के लिए खुद रहता था।

वर्जन

खेत पर सो रहे एक चौकीदार की हत्या कर दी गई है। अज्ञात बदमाश भैंस चोरी कर ले गए। पीएम रिपोर्ट आने के बाद और हकीकत सामने आ सकेगी।

- सुरेंद्र सिंह गौर, एडिशनल एसपी देहात।

Posted By: Nai Dunia News Network