दमोह नईदुनिया प्रतिनिधि। हरियाणा के हिसार का रहने वाला एक बच्चा कुछ दिनों पूर्व भटकते-भटकते अचानक दमोह आ गया दमोह रेलवे स्टेशन के पास चाइल्ड लाइन ने रेस्क्यू कर उसे अपने संरक्षण में लिया। जिसकी सूचना कलेक्टर एसकृष्ण चैतन्य को दी गई। बच्चे के निवास का पता नहीं मिलने पर ई-गर्वेनेंस मैनेजर ने आधार कार्ड के आधार पर उसे आनलाइन ट्रेस किया और उनके निवास का पता मिलने पर उसे चाईल्ड हेल्पलाईन की टीम विनीत शुक्ला को उसके घर छोड़ने रवाना हुई है।

इस संबंध में कलेक्टर एसकृष्ण चैतन्य ने बताया बच्चे का नाम विनीत है जिसका जन्म 2009 का है उसके आधार कार्ड को ट्रैकिंग करके उसके एड्रेस का पता चला है बच्चा हिसार हरियाणा का रहने वाला है। चाइल्ड लाइन के माध्यम से बच्चा दमोह मे मिला था। उसके आधार की ट्रैकिंग की गई जिससे उसके एग्जैक्ट एड्रेस और लोकेशन का पता चला था। टीम उसको हिसार लेकर जा रही है आधार कार्ड की वजह से एड्रेस एवं बच्चे की बाकी की डिटेल्स भी ट्रैक करने में आसानी हुई है। ई-गवर्नेंस विभाग के माध्यम से यह अच्छी पहल हुई है जो बच्चे यहां प्राप्त हुआ है उनको सही सलामत वहा तक पहुंचा पायेगा।

चाइल्ड हेल्पलाइन दमोह के गोविन्द यादव ने बताया चाइल्ड लाइन में यह बच्चा 22 तारीख से है ई-गवर्नेंस के प्रयास से प्रोसेस हुई शनिवार को पता चला कि यह बच्चा हिसार हरियाणा का रहने वाला है वहां पर उनके परिवार वालों से संपर्क कर एवं वहां की चाइल्ड लाइन से संपर्क करके बच्चे के स्कूल का पता मिलाए उसके माता-पिता से बात हुई वो पूरी तरह से संतुष्ट हैं और इस बच्चे को आज उसके घर वापस भेज रहे हैं। ई-गवर्नेंस अधिकारी महेश अग्रवाल ने बताया चाइल्ड हेल्पलाइन दमोह की टीम ई-गवर्नेंस ऑफिस में आई और एक बच्चा जिसका नाम विनीत शुक्ला है इसकी आधार से संबंधित जानकारी के लिए यहां पर आए उन्होंने बताया आधार एक्ट 2016 के अनुसार हर व्यक्ति की जानकारी को गोपनीय है इस तरीके से कहीं पर मिल नहीं सकती।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local