जाेगेंद्र सेन, ग्वालियर नईदुनिया। घोष वादकों का पथ संचलन शुक्रवार की शाम को पौने पांच बजे रानी लक्ष्मीबाई की समाधि से प्रारंभ होगा। पथ संचलन प्रमुख मार्गों से निकलकर जीवायएमसी क्लब में जाकर समाप्त होगा। पथ संचलन का नगरवासियों द्वारा पुष्प वर्षा कर स्वागत किया जाएगा। शहर के चौराहे भी भगवा रंग में रंग गए हैं। फूलों से इन चौराहों को सजाया गया है। सरसंघचालक डा मोहन भागवत घोष शिविर में शिरकत करने के लिए रात्रि को तेलंगाना स्पेशल से ग्वालियर आएंगे। सरसंघचालक की सुरक्षा काे लेकर शहर में पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। घोष वादकों के पथ संचलन को लेकर नगरवासियों में काफी उत्साह है।

चौराहों को सजाया, तानसेन सहित प्रमुख संगीतकार के होडिंग्स लगेःघोष वादकों का पथ संचलन रानी लक्ष्मीबाई की समाधि से प्रारंभ होकर फूलबाग चौराहा, गुरुद्वारा, महलगेट, जयेंद्रगंज, घोड़ा चौका व सनातन धर्म मंदिर के सामने से गुजरकर जीवायएमसी क्लब पर पहुंचकर समाप्त होगा। इस रूट पर बांसुरी बाजते हुए भगवान श्रीकृष्ण व मां सरस्वती के अलावा प्रमुख संगीतकारों व वाघ यंत्रों के होडिंग्स लगाए गए हैं। इन होडिंग्स पर किसी नेता किसी अभिवादनकर्ता का नाम नहीं है। घोष शिविर के लिए नगर के प्रमुख चौराहों पर भगवा ध्वज लगाए गए हैं। फूलों से सजाया गया है। रंगोली भी सजाई गई है।

पुष्पवर्षा कर अभिवादन किया जाएगाः पथ संचलन में 500 घोष वादक अपने वाघ यंत्रों का प्रदर्शन करते हुए निकलेंगे। घोष वादकों का अभिवादन पुष्पवर्षा से किया जाएगा। पुष्पवर्षा के लिए मार्ग में छोटे- छोटे स्टेज बनाए गए हैं। इन स्टेजों की विशेषता है कि इन पर न किसी का बैनर है और न नाम है। शिवपुरी लिंक रोड पर तिरंगा झालर भी लगाई गईं है।

सुरक्षा के पुख्त इंतजामः घोष शिविर की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। शहर पुलिस पिछले दो दिन से हाई अलर्ट पर है। खुफिया एजेंसियां संवेदनशील क्षेत्रों में सक्रिय हैं। घोष शिविर में तीन दिन के प्रवास पर सरसंघचालक डा मोहन भागवत रात्रि आठ बजे तेलंगान स्पेशल से आएंगें। एसपी अमित सांघी ने बताया कि सरसंघचालक को जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा प्राप्त है। निर्धारित मापदंडों के अनुसार सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local