ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। घर वालों से नाराज होकर एक चौदह वर्षीय नाबालिग दिल्ली से गोंडवाना एक्सप्रेस में सवार हो गई। कोच में सवार यात्रियों ने किशोरी को अकेला यात्रा कर तत्काल कंट्रोल रूम झांसी को सूचना दी। कंट्रोल से मिली सूचना मिलते ही जैसे ही ट्रेन ग्वालियर पहुंची वैसे ही बताए गए स्लीपर कोच से आरपीएफ की महिला विंग ने उतार लिया। पूछताछ में नाबालिग ने परिजनों से नाराज होकर घर से जाना बताया। रात में ही आरपीएफ ने परिजनों को उसके ग्वालियर में होने की सूचना देने के बाद किशोरी को चाइल्ड लाइन के सुपुर्द कर दिया। सोनीपत निवासी चौदह वर्षीय नाबालिग परिजनों से नाराज होकर बीते रोज सोनीपत से दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंची और यहां से उत्कल एक्सप्रेस के स्लीपर कोच- 4 में सवार हो गई सफर के दौरान किशोरी को अकेला देख कोच में सफर कर रहे यात्रियों ने उसके बारे में सूचना टीटी की मदद से कंट्रोलरूम को दी। सूचना मिलते ही ट्रेन के ग्वालियर पहुंचते ही किशोरी को आरपीएफ की महिला विंग ने अपने कब्जे में लेकर पूछताछ की तो किशोरी ने परिजनों से नाराज होकर घर से भागना बताया। मिली किशोरी के परिजनों को रात में ही सूचना दे दी गई उसे रात में ही चाइल्ड लाइन के सुपुर्द कर दिया। आज सुबह ग्वालियर पहुंचे परिजनों को पूछताछ व काउंसलिंग करने के बाद बालिक को उनके सपर्ट कर दिया।

4 दर्जन अवैध वेंडर आरपीएफ ने दबोचे

रनिंग ट्रेनों में बिना लाइसेंस के खानपान की सामग्री की अवैध रूप से बिक्री करने वाले चार दर्जन वेंडरों को आरपीएफ ने रेलवे एक्ट के तहत मामला दर्ज कर खानपान की सामग्री जब्त कर हवालात पहुंचा दिया। आरपीएफ से मिली जानकारी के अनुसार रेल सुरक्षा आयुक्त के निर्देश पर चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत ताज, गोडवाना गोवा व उत्कल एक्सप्रेस में वाय व पेठा की बिक्री कर रहे चार अवैध वेंडरों को कोच टीटी की सूचना पर घेराबंदी कर पकड़ लिया। पकड़े गए चारों अवैध वेंडरों द्वारा बिक्री की जा रही सामग्री जब्त कर सभी को गिरफ्तार कर हवालात पहुंचा दिया।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close