ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। गर्मी की छुट्टियों के चलते ट्रेनों में बहुत भीड़ चल रही है। इसके बावजूद रेलवे समर स्पेशल ट्रेनें संचालित करने में कंजूसी कर रही है। छुट्टियों के लिए कंफर्म टिकट पाने के लिए लोग तत्काल टिकट के भरोसे हैं। इसके चलते आरक्षण कार्यालयों पर मारामारी की स्थिति उत्पन्न हो रही है। रेलवे स्टेशन पर तत्काल कराने पहुंच रहे यात्रियों में विवाद के चलते आरक्षण कर्मचारियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पहले आरपीएफ के जवान तत्काल टिकट के समय आरक्षण कार्यालय में मौजूद रहते थे, लेकिन वर्तमान में जवानों के गायब होने से आरक्षण कार्यालय के बाहर लगने वाली लाइन से रोज विवाद हो रहा है।

इन दिनों स्कूलों में ग्रीष्मकालीन अवकाश लगा हुआ है। इसलिए ज्यादातर लोग अपने परिवार को लेकर हिल स्टेशनों या समुद्रीय इलाकों में सैर-सपाटे के लिए निकलते हैं। इसी तरह शादी-ब्याह का भी सीजन चल रहा है। लोग वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए भी यात्रा कर रहे हैं। मौजूदा स्थिति रेलवे के लिए समर सीजन कहलाता है। इसकी वजह से इन दिनों ज्यादातर ट्रेनों में भीड़ ज्यादा बढ़ गई है। हाल यह है कि ट्रेनों में नो रूम के हालात हैं। वेटिंग 200 से ज्यादा पार हो गई है, इसलिए टिकट कंफर्म नहीं हो पा रहा है। लोगों को जैसे-तैसे सफर करना पड़ रहा है। मुंबई, गोवा, शिरडी, जम्मू, हरिद्वार, चंडीगढ़ जैसे शहरों में यात्रा के लिए लोग ज्यादा दिलचस्पी दिखा रहे हैं। इसलिए मुंबई, साउथ बिहार और हावड़ा की ओर जाने वाली ट्रेनें पैक चल रही है। कालका सांई नगर एक्सप्रेस, गोवा एक्सप्रेस, पंजाब मेल, मंगला एक्सप्रेस, झेलम एक्सप्रेस में वेटिंग की संख्या 150 से पार चल रही है। इसी तरह का हाल देहरादून व हरिद्वार जाने वाली ट्रेनों का है। सीजन में यात्रियों की भीड़ को देखते हुए रेलवे साप्ताहिक समर स्पेशल ट्रेन भी चलाती है, लेकिन ग्वालियर से होकर कोई भी समर स्पेशल ट्रेन नहीं चलाई गई है। इससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close