रेलवे स्टाफ को चार बार दी जानकारी, पर नहीं हुई कोई सुनवाई

ग्वालियर। रेलवे कर्मचारियों की लापरवाही को देखकर लगता है कि उन्हें ट्विटर के डंडे की आदत पड़ गई है। जब तक रेल मंत्री को ट्वीट नहीं किया जाता, तब तक यात्रियों की सुनवाई ही नहीं होती। शनिवार को ताज एक्सप्रेस का एसी खराब हो गया। चार बार यात्रियों ने रेलवे स्टाफ से इसकी शिकायत की, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। जैसे ही रेल मंत्री को ट्वीट किया तो तत्काल एसी ठीक कर दिया गया।

ताज एक्सप्रेस जब मथुरा से ग्वालियर के लिए रवाना हुई तो सी-2 कोच में अचानक कूलिंग कम होने लगी। कुछ देर बाद गर्मी के कारण यात्रियों का दम घुटने लगा। यात्रियों ने ट्रेन में मौजूद रेलवे स्टाफ को इसकी जानकारी दी तो एसी ठीक करवाने का आश्वासन दिया गया। तब तक ट्रेन आगरा पहुंच गई। आगरा में यात्रियों ने फिर शिकायत की, लेकिन इस बार भी सुनवाई नहीं हुई। इस तरह चार बार यात्रियों ने रेलवे स्टाफ से शिकायत की, लेकिन रेलवे स्टाफ ने अनसुना कर दिया। इसके बाद ट्रेन में से ही एक यात्री ने रेल मंत्री को ट्वीट कर दिया। इसके बाद तो ट्रेन के ग्वालियर पहुंचने से पहले ही इलेक्ट्रिकल स्टाफ अलर्ट हो गया। ट्रेन जैसे ही ग्वालियर पहुंची तो तत्काल इलेक्ट्रिकल स्टाफ कोच में पहुंच गया और एसी ठीक किया। इसके बाद करीब 20 मिनट बाद ट्रेन रवाना हो गई।

केरला के एसी का भी दम फूला

तेज गर्मी में केरला एक्सप्रेस के बी-3 कोच के एसी का भी दम फूल गया। एसी ने बीच रास्ते में काम करना बंद कर दिया। ट्रेन जब ग्वालियर पहुंची तो यात्रियों ने हंगामा कर दिया। ग्वालियर से इलेक्ट्रिकल स्टाफ ट्रेन में चढ़ा और तब ट्रेन रवाना हुई। रास्ते में एसी ठीक किया गया।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local