- ट्रेन एक घंटा देर से ग्वालियर आई

Gwalior Railway News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रेलवे निजामुद्दीन से एर्णाकुलम जाने वाली मंगला एक्सप्रेस में गुरुवार को एस-8 कोच लगाना भूल गई। इस भूल का खामियाजा उन यात्रियों को उठाना पड़ा, जिन्हें एस-8 कोच में बर्थ मिली थी। एस-8 के यात्रियों को जब कोच नहीं मिला तो आगरा में ट्रेन को रोक लिया। एक घंटे तक ट्रेन आगरा खड़ रही। यात्रियों समझा कर ट्रेन को आगे रवाना किया तो उन्होंने ग्वालियर स्टेशन पर रोक लिया। यात्रियों हंगामा शुरू कर दिया। अलग-अलग शहरों के 38 यात्रियों का इस कोच में रिजर्वेशन था। ग्वालियर स्टेशन पर यात्रियों को एस-5, एस-6 व एस-7 में बिठाया और ट्रेन को रवाना किया गया।

ट्रेन संख्या 12618 दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन मंगला एक्सप्रेस निजामुद्दीन स्टेशन से सुबह 5:40 बजे रवाना हुई। यह ट्रेन आगरा में साढ़े आठ बजे पहुंची। निजामुद्दीन स्टेशन पर यात्रियों को एस-8 कोच नहीं मिला। उन्होंने पूरे ट्रेन में घूमते हुए तलाशा। जब ट्रेन आगरा स्टेशन पर सुबह साढे आठ बजे पहुंची तो यात्री नीचे उतर गए। उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया। ट्रेन को रोककर रखा। स्टेशन पर इन्हें समझाया गया। करीब 55 मिनट से अधिक समय तक ट्रेन खड़ी रही। यात्री कोच लगाने की मांग कर रहे थे, लेकिन कोच नहीं लग सका। दूसरे कोचों में बिठाकर आगे कोच लगाने का भरोसा दिया। उनकी रास्ते में किसी ने नहीं सुनी तो ग्वालियर स्टेशन पर उतर गए। ट्रेन टिकट एक्जामिनर को घेर लिया। उन्होंने कहा कि कोच नहीं है, किस बर्थ पर बैठे। एस-8 में 38 यात्रियों का रिजर्वेशन था। यात्रियों का कहना था कि जब टिकट बुक किया था, तब उन्हें एस-8 में कन्फर्म टिकट मिला था। अब उनके पास मैसेज आया कि उनकी टिकट वेटिंग और आरएसी में है। कुछ यात्रियों ने कहा कि दिल्ली में हमें भरोसा दिया था, आगरा में कोच लगा दिया जाएगा। लेकिन ग्वालियर तक कोई भी कोच नहीं लगाया गया। इसलिए यात्रियों ने हंगामा किया।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close