third Line of Rail in Gwalior: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रेलवे संरक्षा आयुक्त की हरी झंडी मिलने के बाद बानमोर-मुरैना के बीच रविवार को थर्डलाइन पर मालगाड़ी का संचालन किया गया। अब थर्डलाइन पर ट्रेनों का संचालन किया जा सकेगा। 19.53 किमी लंबी थर्ड लाइन पर ट्रेनों का संचालन होने से ट्रेनें समय पर चलेंगी। बीच-बीच में ट्रेनों को रोकना नहीं पड़ेगा। ज्ञात है कि इस ट्रैक का दो बार परीक्षण किया गया था। 120 से 125 किमी प्रतिघंटा की गति से ट्रेन को दौड़ा गया था। परीक्षण सफल रहा था। संरक्षा अायुक्त ने ट्रेन संचालन के लिए हरीझंडी दे दी। धौलपुर से बीना के बीच तीसरी लाइन का निर्माण किया जा रहा है। टुकड़ों में लाइन का कार्य किया जा रहा है। डबरा-आंतरी 20 किलोमीटर, वीरांगना लक्ष्मीबाई-बबीना 25.35 किलोमीटर, बिजरौठा-ललितपुर 28.98 किलोमीटर तथा ललितपुर जाखलौन 16.58 किलोमीटर रेलखंड पर ट्रेनों का संचालन शुरू किया जा चुका है। अब बानमोर से मुरैना के बीच भी रेलखंड भी संचालन शुरू हो गया है।

भोपाल से नई दिल्ली जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस का रविवार को स्टेशन पर दो बार कोच डिस्प्ले बदल दिया, जिससे यात्री परेशान हो गए। बुजुर्ग यात्रियों को सबसे ज्यादा दिक्कत हुई। अपना-अपना सामान लेकर भागना पड़ा। शाताब्दी एक्सप्रेस का रात पौने अाठ बजे आगमन का लाइन कर दिया गया। प्लेटफार्म नंबर दो इस ट्रेन का अागमन होना था। इसके अागमन को लेकर पहले कोच डिस्प्ले में ट्रेन की स्थिति दर्शा दी गई। कोच डिस्प्ले के अाधार पर लोग खड़े हो गए। जब ट्रेन का अागमन हुअा तो दुबारा डिस्प्ले बदला गया, जो डिब्बे अागे बताए गए थे, वह पीछे दर्शा दिए गए। इस डिस्प्ले को देखकर यात्रियों में भगदड़ मच गई। यात्री अपना सामान लेकर निर्धारित कोच स्थिति पर पहुंचे।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close