हरदा। नवदुनिया प्रतिनिधि

जिले के मसनगांव और भिरंगी रेलवे स्टेशन के बीच एक युवक और युवती ने ट्रेन के सामने कूदकर खुदकुशी कर ली। घटना सोमवार शाम की है। दोनों के शवों का जिला अस्पताल में पोस्टमार्टम कर मंगलवार सुबह परिजनों को सौंप दिए गए। ये दोनों तीन दिन पहले घर छोड़कर चले गए थे। अस्पताल पुलिस चौकी के एएसआई संजय ठाकुर ने बताया कि सोमवार रात को मसनगांव एवं भिरंगी रेलवे स्टेशन के पास एक युवक-युवती के रेलवे ट्रैक पर होने की सूचना मिली थी। दानापुर से चलकर पूना की ओर जाने वाली गाड़ी संख्या 12150 के ड्राइवर ने स्टेशन पर एक युवक ओर युवती के चलती ट्रेन के सामने आकर आत्महत्या करने की सूचना दी थी। पुलिस ने मौके पर जाकर देखा तो संतोष पिता हरिचंद्र (22 वर्ष) निवासी ग्राम कोथमी थाना सिराली एवं ज्योति पिता आशाराम (18 वर्ष) निवासी हसनपुरा थाना छीपाबड़ के शव क्षत विक्षत अवस्था में मिले। पुलिस के अनुसार भिरंगी रेलवे स्टेशन के पास खंबा नंबर 652/13 एवं 652/15 के बीच ज्योति का शव ट्रैक के बीच में एवं संतोष का शव ट्रैक के बाई तरफ पड़ा था। मौके से मिले आधार कार्ड से पहचान की गई। जिसके बाद दोनों के स्वजन भी घटना स्थल पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि दोनों घर से बिना बताए चले गए थे। दोनों की रिश्तेदारी भी है। परिजनों से दोनों के बीच प्रेम प्रसंग होने की बात से इंकार किया है। इधर मंगलवार सुबह जिला अस्पताल में दोनों के शवों का पीएम कर परिजनों को सौंप दिए।

भिरंगी रेलवे फाटक के पास के पास ट्रैक पर हादसे में 13 गाय की मौत

खिरकिया। नवदुनिया न्यूज

रविवार सुबह खिरकिया के पास भिरंगी रेलवे फाटक से कुछ ही दूरी पर एक दर्दनाक हादसा घटित हुआ। जबकि रेलवे फाटक के पास पुणे से जम्मू की ओर जा रही झेलम एक्सप्रेस की चपेट में आने से 13 गायों की मौत हो गई। वहीं एक गाय गंभीर रूप से घायल हो गई। सूचना मिलने पर तहसीलदार अर्चना शर्मा एवं पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पंचनामा बनाया। तहसीलदार अर्चना शर्मा ने बताया कि रविवार सुबह भिरंगी रेलवे फाटक से करीब 800 मीटर की दूरी पर 13 गायें मृत अवस्था में पड़ी होने की उन्हें सूचना मिली। सूचना मिलते ही वे मौके पर पहुंची। ये सभी गाय झेलम एक्सप्रेस की चपेट में आने से कट गई। उन्होंने बताया कि इनमें से 6 गाय गर्भवती थी। वहीं एक बछड़ा गंभीर रूप से घायल पड़ा था। जिसे उपचार के लिए पशु चिकित्सालय भेजा गया। उन्होंने बताया कि इन गायों के मालिकों की पहचान नहीं हो सकी है। सभी मृत गायों को घटना स्थल के पास ही गड्ढा कर दफना दिया गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close