India New Zealand Match: इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। भारत और न्‍यूजीलैंड के बीच इंदौर के होलकर स्टेडियम में आज दोपहर 1.30 बजे से मैच शुरू हुआ। इसे लेकर क्रिकेट प्रेमियों में जबरदस्त उत्साह देखा गया। क्रिकेट प्रेमी मैच शुरू होने से पहले ही स्टेडियम पहुंचने लगे थे। स्टेडियम के आसपास हजारों लोगों का हुजूम देखा जा रहा है। हर कोई भारत की जीत को लेकर आशांवित है। लोग अपने चहेते खिलाड़ियों को चौके-छक्के लगाते देखना चाहते हैं।

टीम इंडिया की ड्रेस पहने नजर आए क्रिकेट प्रेमी

सुबह 10 बजे से ही क्रिकेट प्रेमियों के कदम होलकर स्टेडियम की ओर चल पड़े थे। कई दर्शक भारतीय टीम की ड्रेस पहने नजर आए। कई दर्शकों के हाथों में तिरंगा था तो चेहरे पर भी तिरंगा पुतवा रखा था। मैच को लेकर इंदौरियों में जबरदस्त उत्साह नजर आ रहा है।

भारतीय टीम में इंदौर के रजत पाटीदार शामिल नहीं

इंदौर में खेले जा रहे मैच में भारतीय टीम में इंदौर के रजत पाटीदार को शामिल नहीं किया गया है। कल ही भारतीय टीम के कोच राहुल द्रविड़ ने उन्हें शामिल नहीं करने के संकेत दिए थे। भारतीय टीम में दो बदलाव किए गए हैं। मुहम्मद शमी और सिराज को तीसरे वनडे के लिए आराम दिया गया है। इनकी जगह उमरान मलिक और युजवेंद्रा चहल को टीम में शामिल किया है। भारतीय टीम में कुलदीप यादव और युजवेंद्रा चहल साथ में हैं । पिछली बार दोनों वर्ष 2021 में साथ में खेले थे। वर्ष 2019 के विश्व कप के बाद यह तीसरा मौका है जब दोनों साथ में टीम में हैं।

जब सितारा बल्लेबाजों को अभ्‍यास के दौरान इंदौरी युवाओं ने छकाया

जिन सितारों को देखकर युवा खिलाड़ी अपना खेल कौशल में सुधार करते हैं, सोमवार को वे उन्हीं को अपनी गेंदों में छकाते नजर आए। दुनियाभर के गेंदबाजों के छक्के छुड़ाने वाले दिग्गज बल्लेबाज कई मौकों पर स्थानीय गेंदबाजों के सामने कमजोर नजर आए। यह लम्हा शहर के युवाओं के लिए जिंदगीभर न भूलने वाला था। उनकी आंखों में वह खुशी थी, जो खिलाड़ियों को मैच जीतने पर मिलती है।

भारत और न्यूजीलैंड की क्रिकेट टीमें सोमवार को अभ्यास के लिए होलकर स्टेडियम पहुंची। बल्लेबाजों को अभ्यास के लिए स्थानीय गेंदबाज तैनात किए गए थे। इनमें अधिकांश क्लब क्रिकेटर थे, जिनके लिए विश्व के दिग्गज बल्लेबाजों को गेंद फेंकना किसी सपने की तरह था। जिन्हें अब तक टीवी पर देखा थे, वे अब आंखों के सामने थे।

जिनकी बल्लेबाजी रोमांच पैदा करती थी, उन्हें ही छकाने और आउट करने का जतन करना था। हालांकि अधिकांश गेंदों पर भारत और न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने युवाओं की गेंदों पर करारे शाट लगाए, लेकिन यह भी इनके लिए सीखने वाला अनुभव था। क्रिकेटरों ने इन्हें जरूरी टिप्स भी दिए। भारतीय कोच राहुल द्रविड़ सहित कई सितारा क्रिकेटरों ने युवाओं के साथ फोटो भी खिंचवाए।

एमवायसीसी के तेज गेंदबाज हर्षवर्धन हार्डिया के लिए यह यादगार लम्हा था। उन्हें पहली बार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों को अभ्यास कराने का मौका मिला। हर्षवर्धन ने कहा कि वह पहली बार इस तरह नेट बालर रहे हैं। उन्होंने न्यूजीलैंड और भारतीय टीम के खिलाड़ियों को गेंदबाजी की। भारतीय खिलाड़ियों में उन्होंने हार्दिक पांड्या, ईशान किशन, रजत पाटीदार, शार्दुल ठाकुर, अहमद शहजाद को गेंदबाजी की। उन्होंने शहजाद अहमद को बोल्ड भी किया।

सीसीआई के दाएं हाथ के तेज गेंदबाज शुभम कैथवास ने भी दोनों टीम के खिलाड़ियों को गेंदबाजी की। दाएं हाथ के तेज गेंदबाज शुभम इससे पहले दो-तीन बार पहले भी नेट गेंदबाज की भूमिका निभा चुके है। वह इससे पहले भारत और न्यूजीलैंड के बीच हुए टेस्ट मैच और भारत- दक्षिण अफ्रीका मैच के पहले नेट गेंदबाज बन चुके हैं। उन्होंने कहा कि यह अनुभव अच्छा रहता है। हमें इस दौरान काफी कुछ सीखने को मिलता है। शीर्ष खिलाड़ियों को गेंदबाजी करना यादगार अनुभव है। उनके अलावा सीसीआई के जयप्रताप भी थे।

एमवायसीसी के दाएं हाथ के तेज गेंदबाज अमन मेहरा ने कहा कि वह भी किसी अंतरराष्ट्रीय मैच के लिए पहली बार नेट गेंदबाज बने हैं। दोनों टीमों के बल्लेबाजों को गेंदबाजी की। उन्होंने न्यूजीलैंड के लोकी फर्ग्यूसन, मिचेल सेंटनर को बोल्ड किया। सभी खिलाड़ियों ने प्रोत्साहित करने के साथ जरूरी सलाह भी दी। उन्होंने बताया कि गुड लेंथ एरिया में गेंदबाजी करने पर ज्यादा विकेट मिलेंगे। इससे हमें काफी कुछ सिखने को मिला है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close