इंदौर, अमित जलधारी। रतलाम रेल मंडल ने पश्चिम रेलवे मुख्यालय (मुंबई) को सप्ताह में एक दिन चलने वाली अहमदाबाद-कोलकाता और अजमेर-हैदराबाद एक्सप्रेस ट्रेनों को इंदौर होकर चलाने का प्रस्ताव दिया है। इससे इंदौर को पहली बार बड़ी लाइन की पासिंग ट्रेन की सुविधा मिल सकती है।

अब तक बड़ी लाइन की सभी ट्रेनें या तो इंदौर से शुरू होती हैं या यहीं पर खत्म होती हैं। पहले छोटी लाइन के समय जयपुर-सिकंदराबाद, जयपुर-अजमेर, रतलाम-अकोला जैसी ट्रेनें इंदौर से पास होती थीं लेकिन बड़ी लाइन की ट्रेनों की सुविधा नहीं मिल पाई कि किसी अन्य स्टेशन से दूसरे स्टेशन जाने वाली ट्रेनें इंदौर होकर गुजरें।

कोलकाता और हैदराबाद जैसे शहरों के लिए पहले ही ट्रेनों का अभाव है और उक्त ट्रेन को इंदौर होकर चलाने से यात्रियों को न केवल कोलकाता-हैदराबाद बल्कि अजमेर और अहमदाबाद के लिए भी वैकल्पिक ट्रेनें मिलेंगी। अभी कोलकाता के लिए इंदौर से सप्ताह में तीन दिन शिप्रा एक्सप्रेस और अहमदाबाद के लिए रोजाना एक ट्रेन चलती है।

रतलाम-फतेहाबाद होते हुए गुजरेंगी

सूत्रों के मुताबिक जिन दो ट्रेनों को इंदौर होकर चलाने की प्रस्ताव भेजा गया है, उन्हें रतलाम-फतेहाबाद रेल लाइन से चलाया जाएगा। ये ट्रेनें इंदौर आएंगी और देवास होते हुए आगे का रास्ता तय करेंगी। इस तरह रतलाम-फतेहाबाद लाइन को भी लंबी दूरी की पहली ट्रेनें मिलेंगी। हालांकि अभी तय नहीं है कि देवास से आगे ट्रेनों को उज्जैन होकर चलाया जाएगा या देवास से मक्सी होते हुए भोपाल की ओर मोड़ा जाएगा।

अभी ये हैं दोनों ट्रेन के रूट

-अहमदाबाद-कोलकाता एक्सप्रेस अभी हर बुधवार सुबह अहमदाबाद से चलती है और शुक्रवार दोपहर सवा तीन बजे कोलकाता पहुंचती है। इस दौरान यह साबरमती, पालनपुर, आबू रोड, मारवाड़, अजमेर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, नीमच, मंदसौर, रतलाम, नागदा, उज्जैन, भोपाल, सागर, दमोह, कटनी, सिंगरौली, धनबाद, आसनसोल और दुर्गापुर स्टेशनों से क्रॉस होती है। वापसी में यह ट्रेन शनिवार दोपहर चलकर सोमवार रात अहमदाबाद पहुंचती है।

-अजमेर-हैदराबाद एक्सप्रेस हर मंगलवार शाम अजमेर से रवाना होती है और गुरुवार सुबह हैदराबाद पहुंचती है। इस दौरान यह ट्रेन चित्तौड़गढ़, नीमच, मंदसौर, रतलाम, नागदा, उज्जैन, भोपाल, इटारसी, खंडवा, भुसावल, मनमाड़, औरंगाबाद, पूर्णा, हुजूर नादेड़ साहिब और निजामाबाद होते हुए गुजरती है। वापसी में हैदराबाद-अजमेर ट्रेन हर शनिवार हैदराबाद से चलकर सोमवार सुबह अजमेर पहुंचती है।

रात में इंदौर आएंगी ट्रेन, इंदौर की कनेक्टिविटी बढ़ेगी

रेलवे के प्रस्ताव से इंदौर की कनेक्टिविटी बढ़ेगी। संभावना है कि ये ट्रेनें रात में इंदौर स्टेशन पर आएं। प्रस्ताव मंजूर होने पर रेलवे दोनों ट्रेनों का नया टाइम टेबल तैयार करेगा। संभवत: ट्रेनों को रतलाम से नागदा भेजने के बजाय फतेहाबाद रूट से इंदौर लाया जाए और फिर देवास होते चलाया जाए। अहमदाबाद-कोलकाता एक्सप्रेस आबू रोड होते हुए चलती है और इंदौर से कई यात्री माउंट आबू जाते हैं। इस ट्रेन से उन्हें फायदा होगा। अजमेर-हैदराबाद ट्रेन इंदौर होकर चलने से दक्षिण भारत के शहरों की कनेक्टिविटी मजबूत होगी और हजारों यात्रियों को फायदा होगा।

-नागेश नामजोशी सदस्य, रेलवे बोर्ड पैसेंजर एमिनिटीज कमेटी

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local