Indore News: इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। सीवरेज लाइन कार्य के दौरान सोमवार को करीब 20 फीट गड्ढे में दबने से एक मजदूर की मौत हो गई, जबकि दो घायल हो गए। घटना मधुमिलन चौराहे से सरवटे बस स्टैंड मार्ग की है। शाम करीब 3.30 बजे तीन मजदूर गड्ढे में उतरे थे। तभी आसपास की मिट्टी और सड़क धंसने लगी। मजदूर मलबे में दब गए। दो को तो सकुशल बाहर निकाल लिया गया, लेकिन एक की मौत हो गई। मृतक का शरीर तो बाहर निकाल लिया गया है, लेकिन सिर की तलाश की जा रही है। आशंका है कि रेस्क्यू के दौरान पोकलेन के पंजे से उसका धड़ सिर से अलग हो गया। यह भी आशंका है कि कांक्रीट की स्लैब गिरने से सिर अलग हुआ। पुलिस रेस्क्यू टीम आने के पहले ही दो मजदूरों को अस्पताल पहुंचा चुकी थी। मृतक 30 वर्षीय डिलन सिंह निवासी रेहली जिला सिवनी है। घायल आशीष जंगेला निवासी सिवनी और दिनेश निवासी झाबुआ को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। उनकी हालत ठीक है।

निजी कंपनी को दिया है ठेका

सीवरेज लाइन के काम का ठेका नगर निगम ने किसी निजी कंपनी को दिया है। ऐसा लगा जैसे भूकंप आ गया प्रत्यक्षदर्शी और काम कर रहे मजदूरों ने बताया कि जमीन धंसने लगी तो ऐसा लगा जैसे भूकंप आ गया। अचानक मिट्टी मजदूरों पर गिर गई। कांक्रीट की स्लैब उनके ऊपर गिरी। पलक झपकते ही तीन मजदूर दब गए। वे हमारी आंखों के सामने मिट्टी में फंसते गए, लेकिन हम उन्हें बचा नहीं पाए।

महापौर की सहायता की घोषणा

इंदौर के महापौर पुष्‍यमित्र भार्गव ने इस हादसे में मृत श्रमिक के परिवार को तीन लाख रुपये और घायल दो अन्‍य मजदूरों को पचास-पचास हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की है।

देखें वीडियो

Posted By: Navodit Saktawat

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close