Indore Railway Station इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। लॉकडाउन के बाद इंदौर स्टेशन से शुरू हुई ट्रेनों में कई ट्रेनों में वेटिंग की स्थिति बन रही है लेकिन इंदौर से भोपाल के बीच चलने वाले इंटरसिटी को यात्री ही नहीं मिल रहे हैं। लॉकडाउन के पहले तक जब यह ट्रेन चलती थी तो यह यात्रियों से भरी होती थी। अब इस ट्रेन को महज 16 फीसद यात्री ही मिल रहे हैं।

इस वजह से रेलवे अधिकारियों की चिंता बढ़ गईं। ऐसे में अब रेलवे अधिकारी यात्रियों से बात कर यह जानने का प्रयास करेंगे कि आखिर इस ट्रेन में कम संख्या में लोग सफर क्यों कर रहे है।

रतलाम मंडल के डीआरएम विनीत कुमार के मुताबिक इंदौर से चलने वाली ट्रेनों में सिर्फ इंदौर-भोपाल इंटरसिटी एक्सप्रेस ही ऐसी ट्रेन है जिसमें यात्री कम हैं। हम इसके कारण को खोजने का प्रयास कर रहे हैं। इंदौर से चलने वाली क्षिप्रा एक्सप्रेस, कामख्या एक्सप्रेस में 140 फीसद यात्री मिल रहे है। वही निजामुद्दीन एक्सप्रेस में भी यात्रियों की सीटें 90 फीसद तक भर रही है।

यात्री ट्रेनों से नहीं मिल रहा लाभ, मालगाड़ियों ने किया पूरा

यात्री ट्रेनें शुरू होने के बाद रेलवे को इंदौर से चलने वाली ट्रेनों से ज्यादा कमाई नहीं हो पा रही है। रेलवे ने लॉकडाउन के बाद जितनी राशि रिफंड की थी, उतनी कमाई भी अभी तक नहीं हुई। दूसरी ओर रेलवे ने मालगाड़ियों से पिछले वर्ष अक्टूबर माह तक के 690 करोड़ रुपये के लक्ष्य को इस बार पूरा कर लिया है।

इनका इंतजार

इंदौर-पुणे एक्सप्रेस

इंदौर-गांधीधाम एक्सप्रेस

इंदौर-भुज एक्सप्रेस

इंदौर-चंडीगढ़ एक्सप्रेस

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस