Palda Industrial Area: इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। पालदा औद्योगिक क्षेत्र में चोरों के आतंक से उद्योगपति परेशान हैं। एक माह में आठ से दस चोरी की घटनाएं हो चुकी हैं। पुलिस प्रशासन चोरों पर नियंत्रण लगाने में नाकाम है। उद्योगपति दो साल से क्षेत्र में पुलिस चौकी खोले जाने की मांग कर रहे हैं, लेकिन अभी तक बन ही नहीं पाई है। पालदा औद्योगिक क्षेत्र भंवरकुआं और आजाद नगर थाने के तहत आता है। दो थानों की जिम्मेदारी होने के बावजूद भी क्षेत्र में चोरी की वारदातें कम नहीं हो रही हैं। पुलिस से मदद न मिलने के बाद अब उद्योगों ने खुद की सुरक्षा के लिए ‘चौकीदारी’ सिस्टम अपनाया है। उद्योगों ने निजी सुरक्षा एजेंसी की मदद ली है। इसके लिए 50 से 55 हजार रुपये हर माह चुकाने पड़ रहे हैं।

सीसीटीवी कैमरे लगे, फिर भी नहीं थम रही वारदातें

पालदा औद्योगिक क्षेत्र में 350 फैक्ट्रियां हैं। अधिकांश में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। इसके बाद भी वारदातें थम नहीं रही हैं। कई बार बदमाश सीसीटीवी कैमरे तोड़कर या केबल काटकर चोरी करते हैं। ट्रकों की तिरपाल काटकर सामान चोरी करते हैं। थाने में शिकायत व सीसीटीवी फुटेज देने के बाद भी अपराधी पकड़ में नहीं आते हैं।

दो साल से पुलिस चौकी की मांग

पालदा औद्योगिक क्षेत्र में चोरी की घटनाओं के अलावा कई बार हम्मालों के बीच विवाद हो जाता है। यही वजह है कि पालदा औद्योगिक संगठन द्वारा दो वर्षों से क्षेत्र में पुलिस चौकी बनाने की मांग की जा रही है, लेकिन पुलिस प्रशासन का सहयोग अभी तक नहीं मिला है। रात को पुलिस का गश्ती दल वाहन का सायरन बजाते हुए एक राउंड घूमकर चला जाता है।

तीन माह पहले निजी सुरक्षा एजेंसी को दी जिम्मेदारी

क्षेत्र के 50 उद्योगों ने निजी सुरक्षा एजेंसी को जिम्मा दिया है। इस पर प्रतिमाह 50 से 55 हजार रुपये खर्च आ रहा है। एजेंसी के आठ से दस लोग रात 10 से सुबह 8 बजे तक बाइक पर और चार पहिया वाहन में घूमते हैं। पिछले तीन माह में इस दल ने दो बार चोरों को पकड़ा तो वो लोहे के पाटे व अन्य का सामान छोड़कर भाग गए। ऐसे में एसोसिएशन ने उस सामान को आजाद नगर थाने में जमा करवाया।

नहीं मिल रहा पुलिस का सहयोग

पालदा औद्योगिक संगठन के प्रमोद जैन का कहना है कि हम दो साल से क्षेत्र में पुलिस चौकी की मांग कर रहे हैं। सभी उद्योगों में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं, फिर भी चोरियां नहीं थमी। रात में पुलिस का वाहन सिर्फ एक बार क्षेत्र में सायरन बजाकर चला जाता है। पुलिस से सहयोग न मिलने के कारण रात में निजी एजेंसी को पेट्रोलिंग के लिए रखना पड़ा है।

पुलिस बल आते ही बनेगी चौकी, सुरक्षा बढ़ाएंगे - पुलिस आयुक्त

पुलिस आयुक्त हरिनारायणचारी मिश्र से सवाल-जवाब

सवाल - पालदा औद्योगिक क्षेत्र में चोरी की घटनाएं थम नहीं रहीं, व्यापारी परेशान हैं। पुलिस सुरक्षा के लिए क्या कर रही?

जवाब - स्थानीय डीसीपी और टीआइ को निर्देशित करेंगे कि वे क्षेत्र की सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता बनाएं।

सवाल - औद्योगिक संगठन दो साल से क्षेत्र में पुलिस चौकी बनाने की मांग कर रहा है, लेकिन चौकी आज तक नहीं बनी?

जवाब - वहां चौकी बनाने का प्रस्ताव है। जो पुलिस बल प्रशिक्षण में है, उसके आने के बाद वहां पर चौकी शुरू की जाएगी।

सवाल - रात में पुलिस वाहन सिर्फ एक बार क्षेत्र में घूमकर चला जाता है, इससे चोरों पर नियंत्रण नहीं लगता?

जवाब - सभी औद्योगिक संस्थानों को सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए निर्देशित करेंगे। पुलिस द्वारा उस क्षेत्र में चोरी करने वाले अपराधियों को पकड़ने की कार्रवाई भी की गई है।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close