जबलपुर, नईदुनिया टीम। जबलपुर के आसपास के जिलों में नगर पालिका और नगर परिषद के अध्यक्ष के लिए चुनाव कराए गए। इसमें सिवनी नगर पालिका में कांग्रेस और उमरिया नगर पालिक में भी कांग्रेस ने कब्जा जमाया है। वहीं नरसिंहपुर, बालाघाट, वारासिवनी, गाडरवारा, करेली, अनूपपुर में भी चुनाव संपन्न हुए।

भाजपा की अंतर्कलह अध्यक्ष का चुनाव होते ही तीन निकायों में ठंडी पड़ी,

नरसिंहपुर। बुधवार को जिले के चार निकायों में भाजपा समर्थित अध्यक्ष तो निर्वाचित हो गए, लेकिन कई दिनों से प्रत्याशियों के नाम चयनित करने संगठन में चल रही रायशुमारी भी अंदरखाने में चल रही अंतर्कलह की आग को शांत नहीं कर सकी। हालांकि यह आग भी अध्यक्ष का चुनाव होते ही ठंडी पड़ गई। भाजपा में बनी अंतर्कलह की बानगी चुनाव में सामने आई। गोटेगांव नगर पालिका में अध्यक्ष पद पर पूनम जितेंद्र ठाकुर और उपाध्यक्ष पद पर श्रद्धा पंकज चौकसे का निर्वाचन निर्विरोध कराने में भाजपा सफल रही। लेकिन नरसिंहपुर, करेली, गाडरवारा में यह अंतर्कलह क्रास वोटिंग के रूप में सामने आई। सर्वाधिक चौंकाने वाली स्थिति तो करेली नगर पालिका में रही जहां सभी 15 पार्षद भाजपा के होने के बाद भी चुनाव रहा। जिसमें पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष सुशीला ममार 8 मत लेकर पुन: अध्यक्ष निर्वाचित हुईं और ज्योति गौतम जैन 7 मत को हार का सामना करना पड़ा।

जिला मुख्यालय की नरसिंहपुर नगर पालिका में अध्यक्ष पद पर भाजपा के नीरज दुबे महाराज 17 मत लेकर अध्यक्ष निर्वाचित हुए। जबकि कांग्रेस के इंजी. रूद्रेश तिवारी को 11 मत मिले। यहां रोचक यह है कि नगर पालिका में भाजपा के 19 और कांग्रेस के 7 व निर्दलीयों की संख्या 2 थी। जिससे साफ समझा जा सकता है कि कांग्रेस को मिले 11 मतों में भाजपा की ओर से क्रास वोटिंग हुई है। यदि मान लिया जाए कि निर्दलीयों ने कांग्रेस का साथ दिया तो भी मतों का आंकड़ा 11 नहीं होता। गाडरवारा नगर पालिका में भी अंतर्कलह मतगणना से साफ हो गई है। यहां भाजपा के 19, कांग्रेस के 5 पार्षद प्रत्याशी थे। लेकिन अध्यक्ष पद के चुनाव में भाजपा के शिवाकांत मिश्रा को 14 मत मिले लेकिन कांग्रेस के जिनेश जैन को 10 मत मिले। जिससे साफ जाहिर हो रहा है कि यहां भी भाजपा संगठन असंतुष्टों को मनाने में असफल रहा।वहीं उपाध्यक्ष के निर्वाचन दौरान करेली में अध्यक्ष पद के चुनाव में भभकी अंतर्कलह आग उपाध्यक्ष चुनाव में ठंडी दिखी। जिससे यहां उपाध्यक्ष पद पर अनिता सुरेंद्र नेमा का निर्वाचन निर्विरोध हो गया। इसी तरह गाडरवारा में वैशाली रीतेश राय का निर्विरोध निर्वाचन हो गया। जबकि नरसिंहपुर में अजीत ठाकुर उपाध्यक्ष निर्वाचित हुए। उन्होंने कांग्रेस के आनंद चौरसिया को हराया।

बालाघाट में वारासिवनी नगर पालिका परिषद में सरिता दांदरे बनी अध्यक्ष

बालाघाट। नगर पालिका परिषद वारासिवनी में निर्दलीय सरिता दांदरे बनी अध्यक्ष।

नरसिंहपुर में नीरज महाराज हुए विजयी

नरसिंहपुर। नरसिंहपुर नगरपालिका अध्यक्ष पद पर नीरज महाराज 17 मत लेकर विजयी। जबकि कांग्रेस प्रत्याशी रुद्रेश तिवारी को 11 वोट मिले।

अमरकंटक में कांग्रेस और डूमर कछार में भाजपा से अध्यक्ष हुए निर्वाचित

अनूपपूर। अनूपपुर जिले के नगर परिषद अमरकंटक और डूमर कछार में अध्यक्ष पद के लिए बुधवार को निर्वाचन हुआ जिसमें अमरकंटक में कांग्रेस और डूमर कछार में भाजपा ने अध्यक्ष पद पर जीत हासिल की है। अमरकंटक नगर परिषद में अब नवनिर्वाचित अध्यक्ष पद का प्रभार श्रीमती पार्वती बाई संभालेंगी जबकि डूमर कछार नगर परिषद में अध्यक्ष पद पर सुनील चौरसिया भाजपा से निर्विरोध चुने गए हैं। अमरकंटक नगर परिषद में कुल 15 वार्ड हैं जहां 8 वार्ड में भाजपा के प्रत्याशी जीत कर आए थे लेकिन भाजपा की ओर से अध्यक्ष पद के उम्मीदवार रोशन पनारिया को केवल 7 मत प्राप्त हुए और उन्हें एक मत कम मिलने के कारण हार का सामना करना पड़ा और पार्वती बाई जोकि कांग्रेस से अध्यक्ष पद के लिए आवेदन फॉर्म जमा किया था। कांग्रेस यहां अपना समीकरण बनाने में सफल रही। अमरकंटक में भाजपा को हार का झटका मिला है जबकि कयास यही लगाए गए थे कि भाजपा का ही अध्यक्ष यहां होगा लेकिन पासा पलट गया अब अमरकंटक नगर परिषद में दो पंचवर्षीय के बाद कांग्रेस का अध्यक्ष होगा। डूमर कछार नगर परिषद में 15 वार्ड हैं यहां निकाय चुनाव के बाद 10 वार्ड में भाजपा समर्थित प्रत्याशी जीत कर आए थे। कांग्रेस नगर परिषद में एक भी वार्ड जीतकर नहीं आई थी 5 वार्डों में निर्दलीय प्रत्याशी जीत कर आए थे। अध्यक्ष पद पर निर्वाचित सुनील कुमार चौरसिया पार्षद के पद पर भी निर्विरोध चुन लिए गए थे।

गाडरवारा में शिवाकांत बने अध्यक्ष

नरसिंहपुर। गाडरवारा नगर पालिका अध्यक्ष के चुनाव में बुधवार को नगर पालिका में निर्वाचन प्रक्रिया पूर्ण हुई। जिसमें भारतीय जनता पार्टी के शिवाकांत मिश्रा को 14 मत प्राप्त हुए वहीं कांग्रेस के जिनेश जैन को 10 मत प्राप्त हुए। इसी के साथ भारतीय जनता पार्टी के शिवाकांत मिश्रा को गाडरवारा नगर पालिका अध्यक्ष के लिए विजय घोषित किया गया।

सिवनी नगर पालिका अध्यक्ष पद पर कांग्रेस का कब्जा। छह बार से लगातार पार्षद चुनाव जीतते आ रहे कांग्रेस पार्षद सफीक खान उर्फ सफीक पार्षद को 2 वोटों से मिली जीत। भाजपा के ज्ञानचंद सनोडिया को 11 वोट मिले। जबकि कांग्रेस के सफीक खान ने 13 वोटों के साथ अध्यक्ष पद का चुनाव जीत लिया है। जीत की जानकारी मिलते ही कांग्रेस के खेमे में खुशी की लहर दौड़ गई है। नगर पालिका सिवनी के अध्यक्ष निर्वाचन प्रक्रिया में मतदान के बाद कलेक्टर एवं रिटर्निग अधिकारी डा राहुल हरिदास फटिंग ने विजय प्रत्याशी शफीक खान को प्रमाण पत्र वितरित किया।

उमरिया नगर पालिका में कांग्रेस की रश्मि सिंह की जीत

उमरिया। उमरिया नगर पालिका में कांग्रेस की रश्मि सिंह ने अध्यक्ष का पद जीता। कांग्रेस को 13 और भाजपा को 11 मत मिले।

गोटेगांव नगर पालिका में अध्यक्ष पूनम और करेली में सुशीला ममार बनीं

नरसिंहपुर। गोटेगांव नगर पालिका परिषद में अध्यक्ष पूनम ठाकुर एवं उपाध्यक्ष श्रद्धा चोकसे निर्विरोध निर्वाचित। करेली नगर पालिका अध्यक्ष के लिए मतदान में सुशीला ममार की जीत। ममार को 8 व ज्योति गौतम जैन को 7 मत मिले। ममार पूर्व में भी अध्यक्ष रह चुंकि हैं। यंहा भाजपा के ही 15 पार्षद प्रत्याशी थे। लेकिन सहमति न बनने से भाजपा में ही दो प्रत्याशी चुनाव मैदान में रहे।

कांग्रेस के एक पार्षद ने किया क्रॉस वोट फिर भी हो गई जीत

मानपुर में भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी बनीं अध्यक्ष

उमरिया। बुधवार को हुए नगर पालिका उमरिया और नगर परिषद मानपुर के चुनाव में कांग्रेस और भाजपा दोनों को ही सफलता मिली है। उमरिया नगर पालिका में कांग्रेस प्रत्याशी अध्यक्ष चुना गया है जबकि मानपुर में भाजपा प्रत्याशी को अध्यक्ष चुन लिया गया है। नगर पालिका उमरिया में कांग्रेस के एक पार्षद ने क्रास वोटिंग की इसके बावजूद कांग्रेस ने यहां अपना अध्यक्ष जीता लिया है।

14 पार्षद 13 वोट

उमरिया नगरपालिका के 24 में से 14 पार्षद कांग्रेस ने जीते थे लेकिन अध्यक्ष के चुनाव में सिर्फ 13 लोगों ने कांग्रेस अध्यक्ष प्रत्याशी के पक्ष में मतदान किया। इस तरह कांग्रेस की रश्मि सिंह अध्यक्ष बन गई। रश्मि सिंह ने भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी श्रीमती अर्चना सिंह को 2 वोटों से परास्त किया है।

राजनीतिक पृष्ठभूमि

कॉन्ग्रेस पार्टी से अध्यक्ष चुनी गई श्रीमती रश्मि सिंह राजनीतिक पृष्ठभूमि से हैं। श्रीमती रश्मि सिंह के ससुर उमरिया के पूर्व विधायक नरेंद्र प्रताप सिंह हैं और उनके चाचा ससुर भी पूर्व विधायक रहे हैं। श्रीमती रश्मि सिंह के चाचा ससुर अजय सिंह अभी भी राजनीति में सक्रिय हैं और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री के तौर पर काम कर रहे हैं। इस परिवार के लोग नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष जिला पंचायत के अध्यक्ष भी रह चुके हैं।

मानपुर में मिली भाजपा को सफलता

मानपुर नगर परिषद के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को अपना अध्यक्ष चुनने में सफलता मिल गई है। यहां चुनाव के दौरान किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला था। मानपुर में भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी श्रीमती भारती सोनी को पार्षदों ने अपना अध्यक्ष चुन लिया है। उन्हें कुल 9 वोट मिले थे जबकि कांग्रेस की श्रीमती उर्वशी द्विवेदी को सिर्फ 6 वोट मिले। कांग्रेस ने यहां 5 वार्डों में जीत हासिल की थी। एक निर्दलीय पार्षद ने कांग्रेस के पक्ष में वोटिंग की जबकि भाजपा के पक्ष में 3 निर्दलीय पार्षदों ने वोटिंग की है।

नरसिंहपुर। गोटेगांव नगर पालिका परिषद में अध्यक्ष पूनम ठाकुर एवं उपाध्यक्ष श्रद्धा चोकसे निर्विरोध निर्वाचित।

केवलारी में भाजपा की सुनीता देवी सिंह बघेल बनी अध्यक्ष

सिवनी। सिवनी जिले की केवलारी नगर परिषद में अध्यक्ष भाजपा के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ भाजपा के ही दो पार्षद खड़े हुए। वही कांग्रेश व गोंगपा ने अपने प्रत्याशी मैदान में नहीं उतारे। चुनाव सुनीता देवी सिंह बघेल ने एक मत से जीत दर्ज की। वही बगावत कर अध्य्क्ष पड़ के लिए चुनाव लड़ रहीं भाजपा पार्षद अनुसुइया सुरेंद्र साहू को 6 व भाजपा पार्षद निशा मनोज बघेल को दो मत प्राप्त हुए। यहां उपाध्यक्ष पद की चुनाव प्रक्रिया जारी है।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close