जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। बधैया मोहल्ला गोहलपुर निवासी वारिस मिश्रा के घर के बाहर हवाई फायर कर कुछ बदमाश भाग निकले। गोली चलाने की घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। एफआइआर दर्ज कर पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है। प्रारंभिक जांच में हत्या के प्रयास प्रकरण में राजीनामा का विवाद सामने आया है। वारिस मिश्रा भी अपराधी प्रवृत्ति का है जिसके खिलाफ 17 आपराधिक प्रकरण दर्ज हैं।

गोहलपुर थाना प्रभारी विजय तिवारी ने बताया कि बधैया मोहल्ला में गोली चलने की सूचना पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची। जहां 28 वर्षीय वारिस मिश्रा ने घटना की जानकारी दी। वारिस ने बताया कि जुलाई 2021 में नितिन पटेल, हनी यादव एवं उनके साथियों ने जान से मारने की नीयत से उस पर गोली चलाई थी। मामले में पुलिस ने हत्या के प्रयास समेत अन्य धाराओं के तहत एफआइआर दर्ज की थी। उक्त मामले में आरोपित नितिन पटेल, हनी यादव कुछ दिन पहले ही जमानत पर रिहा हुए। जिसके बाद उस पर हत्या के प्रयास प्रकरण में राजीनामा करने के लिए दबाव बनाया जा रहा था। वह परिवार सहित घर में सो रहा था। तभी उसे गोली चलने की आवाज आई। वह अपने पिता के साथ घर से बाहर निकला। तब तक गोली की धांय धांय सुनकर सुनकर कालोनी के लोग भी घरों से बाहर निकल आए थे। घर के बाहर उसे खाली कारतूस मिला।

कैमरे में वारदात कैद-

पुलिस ने बताया कि वारिस मिश्रा के घर लगे सीसीटीवी कैमरों की जांच की गई। फुटेज से पता चला कि हनी यादव, राज काला समेत तीन युवक वहां पहुंचे थे। हनी यादव ने हवाई फायर किया जिसके बाद तीनों वहां से भाग गए।

समझौता करने बना रहे दबाव-

वारिस मिश्रा ने पुलिस को बताया कि पूर्व में दर्ज हत्या के प्रयास प्रकरण में उस पर समझौता करने के लिए दबाव बनाया जा रहा है। उसे डराने एवं समझौते के लिए दबाव बनाने हेतु हवाई फायरिंग की गई। इधर, थाना प्रभारी ने बताया कि वारिस के खिलाफ हत्या का प्रयास, अवैध वसूली, आर्म्स एक्ट, घर में घुसकर मारपीट, तोड़फोड़ आदि घटनाओं के 17 प्रकरण दर्ज हैं। गोहलपुर, माढो़ताल, विजय नगर, कोतवाली, बरेला थाने में दर्ज मामले कोर्ट में विचाराधीन हैं। वारिस पर प्रतिबंधात्मक, जिला बदर तथा एनएसए की कार्रवाई की जा चुकी है।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close