जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों की जानकारी लेने के लिए पूछताछ केंद्र बनाया गया है। इसे और बेहतर बनाने के लिए रेलवे ने इसमें बदलाव शुरू कर दिया है। पहला बदलाव करते हुए इस केंद्र का नाम पूछताछ केंद्र से हटाकर सहयोग केंद्र बना दिया गया है। प्लेटफार्म पर अब यात्री को केंद्र के बाहर सहयोग लिखा मिलेगी, जहां से वह ट्रेनों की जानकारी ले सकेंगे।

जबलपुर मंडल में प्रमुख स्टेशनों पर संचालित होने वाली पूछताछ केंद्र का नाम बदलकर ‘सहयोग’ कर गया है। मंडल के जबलपुर, मदनमहल, श्रीधाम, नरसिंहपुर, गाडरवारा, पिपरिया, सुहागपुर, सिहोरा, कटनी, दमोह, सागर, मैहर, सतना, रीवा प्रमुख स्टेशनों पर पूछताछ खिड़कियों के नाम बदल दिए गए हैं।

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक विश्व रंजन ने बताया की यात्री गाड़ियों के आवागमन एवं प्लेटफार्म, कोच पोजीशन आदि की जानकारी देने के लिए यात्रियों के सहयोग के लिए इस खिड़की से रेलवे से जुड़ी हर जानकारी मिलेगीे। दरअसल रेलवे के वाणिज्य विभाग ने अपने कर्मचारियों को हाल ही में कर्मयोगी का प्रशिक्षण प्रदान किया है। जिससे की रेलवे कर्मचारियों की कार्यकुशलता के साथ यात्रियों के साथ बेहतर व्यवहार किया जाए। सहयोग में बैठने वाले कर्मचारी भी इस बात को ध्यान में रखकर यात्रियों को जानकारी देंगे।

रेलवे कर्मचारियों को मिला सम्मान

जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। पश्चिम मध्य रेलवे में सिग्नल एवं दूर संचार विभाग के रेल कर्मियों को सम्मानित किया गया। सम्मान समारोह के दौरान विभाग के प्रमुख मुख्य सिगनल एवं दूर संचार इंजीनियर सत्यवीर सिंह ने उत्कृष्ट कार्य करने वाले 3 राजपत्रित अधिकारी, 10 कर्मचारियों को प्रमुख मुख्य सिगनल एवं दूरसंचार इंजीनियर ने कहा कि उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारी और अधिकारी दूसरों के लिए प्रेरणा है। अच्छे काम को सम्मानित किया जाना चाहिए। इस अवसर पर तीनों मंडलों के वरिष्ठ अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन अभिलाषा श्रीवास्तव और राजुल सक्सेना द्वारा किया गया।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close