जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। दक्षिण एवं उत्तर भारतीय संस्कृति को सहेजे हुए काशी-तमिल संगमम की ट्रेन का पश्चिम मध्य रेलवे के स्टेशनों में भव्य स्वागत किया जा रहा है। सोमवार को काशी-तमिल संगमम की पांचवीं ट्रेन जबलपुर स्टेशन पर दोपहर सवा तीन बजे पहुंची। इस ट्रेन में सफर कर रहे यात्रियों का जबलपुर रेल मंडल के वरिष्ठ अधिकारियों ने भव्य स्वागत किया। इस दौरान यात्रियों को स्वागत चन्दन का टीका लगाकर बाजे-गाजे के साथ किया गया।

दरअसल गाड़ी संख्या 22669 एर्नाकुलम से पटना एक्सप्रेस में काशी-तमिल संगमम जाने वाले यात्रियों के लिए स्पेशल कोच लगाए गए थे, जिसमें 216 यात्री सफर कर रहे थे। इस दौरान इनका स्वागत करने के लिए प्लेटफार्म पर बड़ी संख्या में उपस्थित रेलवे के पर्यवेक्षकों ने इनका स्वागत किया, जिससे वे खुश हुए और प्लेटफार्म पर ही नाचने लगे। यात्रियों ने रेलवे के इन्तजामों की सराहना करते हुए काशी की ओर रवाना हुए। इस ट्रेन में सफर करने वाले यात्री दक्षिण भारत से काशी के लिए जा रहे हैं, जो कि काशी-तमिल संगमम 2022 ''आजादी के अमृत महोत्सव'' के हिस्से के रूप में भारत सरकार की पहल पर 'एक भारत श्रेष्ठ भारत' समारोह में शामिल होगे। छठवीं ट्रेन संख्या 12390 चेन्नई-गया 30 नवम्बर को जबलपुर आएगी, जिसका स्टेशन पर भव्य स्वागत किया जाएगा।

000

पूना और मुंबई स्पेशल अब मार्च तक चलेगी-

जबलपुर से पूना जाने वाली स्पेशल ट्रेन की समयावधि को रेलवे ने मार्च तक चलाने का निर्णय लिया है। वहीं जबलपुर से मुंबई जाने वाली स्पेशल को भी दिसंबर से बढ़ाकर मार्च तक चलेगी। रेलवे ने ट्रेनों की समीक्षा की। इस दौरान जबलपुर-पुणे और जबलपुर-मुंबई स्पेशल ट्रेन में लगातार यात्रियों की बढ़ती संख्या को देखा गया। इसके बाद यह दोनों ट्रेन अब मार्च तक चलेगी।

इस संबंध वरिष्ठ मंडल वाणिज्यिक प्रबन्धक विश्व रंजन ने बताया कि जबलपुर-पुणे ट्रेन 26 मार्च तक चलेगी वहीं जबलपुर-मुंबई ट्रेन को 30 मार्च तक चलाया जाएगा।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close