खंडवा(नईदुनिया प्रतिनिधि)। खंडवा से आमलाखुर्द तक आमान परिवर्तन के साथ ही रेलवे ब्रिज बनाने कार्य तेजी से किया जा रहा है। रविवार को क्रेन के माध्यम से गर्डर रखने का कार्य किया गया। नदी के दोनों किनारों पर तीन-तीन पिलर पर यह गडर रखी जा चुकी है। एक सप्ताह में बीच वाले हिस्से पर भी गर्डर रखी दी जाएगी। इससे बारिश में भी काम प्रभावित नहीं होगा।

आबना नदी पर बनाए जा रहे ब्रिज का काम अब तेजी से हो रहा है। कोरोना संक्रमण के कारण लगभग डेढ़ साल तक काम बंद था। इसके दिसंबर 2021 से से यह दोबारा शुरु किया गया। पिछले पांच से छह माह में आबना नदी पर सभी पिलर खड़े कर दिए गए हैं। रेलवे अधिकारियों के अनुसार नवंबर से पहले ब्रिज बनकर तैयार हो जाएगा। लगभग 20 करोड़ रुपये की लागत से यह ब्रिज बनाया जा रहा है। इसकी लंबाई 150 मीटर व ऊंचाई जल की सतह से 15 मीटर है। ब्रिज के दोनों तरफ आमान परिवर्तन के तहत रेल पाथ डालने के लिए बेस तैयार है। अप्रैल में पिलर खड़े होने के बाद इसमें पिलर बेड ब्लाक डाले गए। इसके बाद गडर रखी गई है। गडर रखने का काम पूरा होने के बाद इस पर स्लैब डाली जाएगी। अक्टूबर-नवंबर के पहले ब्रिज पूरी तरह से तैयार हो जाएगा। आबना नदी पर इसके पहले दो ब्रिज बने हुए हैं जो अप व डाउन के लिए अलग-अलग है। नई लाइन डलने के कारण यहां से ब्रिज बनाया जा रहा है। यह लाइन रेलवे माल गोदाम के पास से होकर रेलवे स्टेशन पहुंचेगी। इसीलिए रेलवे ने सियाराम चौक के आसपास से अतिक्रमण भी हटाया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close