बीड़। संत सिंगाजी ताप परियोजना में बायलर से निकलने वाली राखड़ एश का परिवहन सड़क की बजाए रेलवे रैक से करने की योजना है।

परियोजना प्रबंधन और रेलवे के कर्मशियल विभाग के आला अधिकारियों ने बुधवार को इसकी संभावनाओं पर विचार-विमर्श किया। परियोजना में चारों यूनिट पूरी क्षमता से चलने पर 24 घंटे में 10 हजार टन राखड़ निकलती है। इसका परिवहन फिलहाल सीमेंट कंपनियां अपनी जरूरत के हिसाब से बल्कर वाहन के माध्यम से करती हैं। एक बल्कर में 50 टन से अधिक राखड़ नहीं आने से परियोजना में बड़ी मात्रा में राखड़ एकत्र होने पर हवा में उड़ने और पानी में बहने की समस्या आती है। इससे निपटने के लिए राखड़ को रेलवे रैक से परिवहन को लेकर करीब एक साल से विचार चल रहा है। रेलवे की मंशा कोयला लेकर आने वाले रैक यहां से खाली लौटने पर उसमें राखड़ परिवहन कर सीमेंट कंपनियों में उपलब्ध करवाने की है। इससे रेलवे को अतिरिक्त भाड़ा मिल सकेंगा। इस संबध में बुधवार को भोपाल रेल मंडल के डीसीएम विजय प्रकाश ने टीम के साथ सिंगाजी परियोजना के मुख्य अभियंता एके शर्मा सहित अन्य अधिकारियों से चर्चा की। उन्होने राखड़ के संबंध में आवश्यक जानकारी भी ली।

निजी अस्पताल का जांचा रिकार्ड

खंडवा। पीसीपीएनडीटी एक्ट के तहत बुधवार को नोडल अधिकारी सहित डाक्टरों की टीम ने अत्रिवाल नर्सिंग होम का निरीक्षण किया। यहां पर 20 सप्ताह तक गर्भपात कराने की अनुमति विभाग द्वारा दी गई है। रिकार्ड देखने पर टीम को 12 सप्ताह से अधिक किसी भी महिला के गर्भपात के मामला नहीं मिला। नोडल अधिकारी डा. एनके सेठिया ने बताया डा. लक्ष्‌मी डूडवे सहित अन्य डाक्टर निरीक्षण के लिए पहुंचे थे। रिकार्ड के अनुसार सभी नियमों का पालन किया गया है। किसी भी नाबालिक का गर्भपात कराया जाना भी नहीं पाया गया। रोजाना अलग-अलग अस्पतालों का निरीक्षण किया जाएगा।

मंत्री के बयान की निंदा

बुरहानपुर। आप नेता शांतनु पाटीदार ने केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी द्वारा किसानों को लेकर दिए गए बयान की निंदा की है। अन्ना के 1-1 दाने को किसान अपने खून पसीने से सींचता है, वहीं पूर्व मंत्री लेखी द्वारा गलत टिप्पणी की गई जो निंदनीय है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local