खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मध्य प्रदेश के खंडवा में ईद मिलादुन्नबी के जुलूस में आपत्तिजनक नारे लगाने का मामला विस्तार लेता जा रहा है। बड़ा बम चौराहे के पास लगे नारों के बाद अब मेडिकल चौराहा और अमन नगर मार्ग से आ रहे जुलूस में भी सर तन से जुदा के नारे लगाने का वीडियो सामने आया है। इन दोनों स्थानों के वीडियो हिंदू संगठनों ने कोतवाली और मोघट थाना पुलिस को उपलब्ध कराए हैं। बड़ाबम चौराहे के पास नारे के मामले में पुलिस ने अज्ञात युवकों पर प्रकरण पंजीबद्ध किया है।

सोमवार को कोतवाली थाने में ¨हदू जागरण मंच, विश्व हिंदू परिषद, बजरंग सेना व हिंदू स्टूडेंट आर्मी के पदाधिकारी व कार्यकर्ता पहुंचे और थाना प्रभारी को वीडियो व ज्ञापन सौंपे। बताया गया कि जुलूस में डीजे साउंड पर नारे का आडियो चल रहा था, जबकि जुलूस में शामिल वाहन पर बैठे युवक सर तन से जुदा के नारे लगा रहे थे।

हिंदू जागरण मंच के जिलाध्यक्ष डा. अनीष अरझरे, विश्व हिंदू परिषद के जिला महामंत्री अनिमेष जोशी और हिंदू स्टूडेंट आर्मी के माधव झा ने आरोपितों पर कार्रवाई की मांग की। उधर, डीएसपी अनिल चौहान ने कहा कि हिंदू संगठनों की शिकायत की जांच की जा रही है। तथ्यों के आधार पर प्रकरण पंजीबद्ध किया जाएगा।

महादेवगढ़ संरक्षक हिंदू नेता अशोक पालीवाल ने बताया कि इस प्रकार के जुलूस पर प्रतिबंध लगना चाहिए। शहर में तीन बार से जुलूस के दौरान भगवान श्रीराम को अपशब्द कहे गए। सर तन से जुदा के नारे लगाए गए। इस तरह के नारे लगाकर हिंदुओं की धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाना और हिंदू समाज को डर का माहौल बनाने का प्रयास निरंतर जारी है। इसलिए ऐसे जुलूसों पर प्रतिबंध लगना चाहिए।

शहर काजी के साथ जुलूस में कांग्रेस नेता सलीम पटेल, रियाज हुसैन और अहमद पटेल कार में सवार रहे। वे युवाओं को अमन शांति का पैगाम देते आगे बढ़ाते रहे। जुलूस इमलीपुरा से शुरू होकर परदेशीपुरा, बड़ाबम चौक, रेलवे स्टेशन, बाम्बे बाजार, घंटाघर चौक, नगर निगम, जलेबी चौक, मेडिकल चौराहा से होकर वापस इमलीपुरा पहुंचा। धार्मिक झंडों के अलावा कुछ युवकों ने हाथों में राष्ट्रीय ध्वज भी ले रखा था।

बड़ाबम चौराहे पर जुलूस का कुछ हिस्सा तीन पुलिया की तरफ निकल जाने के बाद कुछ युवक वापस इमलीपुरा की तरफ से आने वाले जुलूस में शामिल होने के लिए जाने लगे। पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोकते हुए वापस अपने जुलूस में जाने के लिए कहा। इस दौरान समाज के लोगों ने पुलिस से बहस कर रहे युवकों को समझाकर आगे बढ़ा दिया। जुलूस में तिरंगे पर बनी चांद सितारे की आकृति आकर्षण का केंद्र रही। केसरिया, सफेद और हरे रंग पर चांद और तारे बने हुए थे। वहीं,आकर्षक वेशभूषा में बच्चे भी जुलूस में शामिल हुए। करीब तीन साल बाद निकले जुलूस में बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए। इधर पुलिस की जुलूस पर नजर रही। जुलूस के समापन तक पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह हर पल की जानकारी लेते रहे। पुलिस कंट्रोल से उन्होंने सीसीटीवी कैमरों से जुलूस पर नजर रखी।

इससे पहले भी लग चुके हैं आपत्तिजनक नारे

शहर में इससे पहले भी आपत्तिजनक नारे लगाए जा चुके हैं। कहारवाड़ी में भगवान श्रीराम को अपशब्द कहते हुए नारे लगे थे। इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई की थी। इसके बाद जलेबी चौक में मोहर्रम पर ताजियों के जुलूस में सर तन से जुदा के नारे लगाए गए थे। इस मामले में केस दर्ज किया गया था। इसके साथ ही यहां पर हिंदू नेता अशोक पालीवाल का नाम लेकर सर तन से जुदा के नारे लगाने का भी मामला सामने आया था। इसकी अशोक पालीवाल और उनके समर्थकों ने कोतवाली थाने में शिकायत की थी। इस मामले में किसी तरह की कार्रवाई नहीं हुई।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close