मंडला। नईदुनिया प्रतिनिधि

ग्राम पटेल सुख लाल आर्मो ग्राम ओढारी, विकास खंड मोहगांव, जिला मंडला की अध्यक्षता में 11 अप्रैल को बैठक आयोजित की गई। ओढारी के लोगों ने कहा कि नर्मदा नदी पर प्रस्तावित बसनिया बांध का सर्वे गुप चुप तरीके से किया जा रहा है। परंतु हम लोगों को कोई जानकारी नहीं दी जा रही है। गांव के लोगों ने कहा कि ओढारी में बनने वाली बसनिया बांध के सबंध में हमारी ग्राम सभा में कोई चर्चा नहीं की गई। जबकि मंडला पांचवी अनुसूची में आता है जहां ऐसा कानून अधिसूचित है। बैठक में उपस्थित ओढारी, दरगढ, दुपट्टा और रमपुरी के लोगों ने सर्वे का विरोध करने का निर्णय लिया है। संगठन को मजबूत करने के लिए आगामी 18 अप्रेल को विस्थापित एवं प्रभावित गांव की बड़ी बैठक आयोजित करने का निर्णय लिया है।

ज्ञात हो कि 2731 करोड़ की लागत से बनने वाली बसनिया बांध से 8780 हैक्टेयर में सिंचाई और 100 मेगावाट जल विद्युत उत्पादन होना प्रस्तावित है। इस बांध से 18 गांव मंडला और 13 गांव डिंडोरी जिले के प्रभावित होने वाले है। बांध में कुल 6343 हैक्टेयर जमीन डूब में आएगी।जिसमें 2443 हैक्टेयर निजी भूमि,1793 हैक्टेयर शासकीय भूमि और 2017 हैक्टेयर वन भूमि शामिल है।बैठक में दरगढ से नारायणगंज के जनपद सदस्य बजारी लाल सरवटे, दुपट्टा के मोती लाल विश्वकर्मा एवं रमपुरी के शिवचरण उरवेती उपस्थित थे। ज्ञात हो कि 2731 करोड़ की लागत से बनने वाली बसनिया बांध से 8780 हैक्टेयर में सिंचाई और 100 मेगावाट जल विद्युत उत्पादन होना प्रस्तावित है। इस बांध से 18 गांव मंडला और 13 गांव डिंडोरी जिले के प्रभावित होने वाले है। बांध में कुल 6343 हैक्टेयर जमीन डूब में आएगी।जिसमें 2443 हैक्टेयर निजी भूमि,1793 हैक्टेयर शासकीय भूमि और 2017 हैक्टेयर वन भूमि शामिल है।बैठक में दरगढ से नारायणगंज के जनपद सदस्य बजारी लाल सरवटे, दुपट्टा के मोती लाल विश्वकर्मा एवं रमपुरी के शिवचरण उरवेती उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close