मंदसौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। मंदसौर में बुधवार सुबह लगभग 11 बजे गीता भवन अंडरब्रिज के पास चाय की होटल के बाहर खड़े होकर पानी पी रहे आरएसएस के पूर्व विभाग शारीरिक प्रमुख और विहिप के विभाग सह मंत्री युवराजसिंह चौहान की हत्या कर दी गई। उन्हें बाइक सवार तीन बदमाशों ने पहले पीछे से सिर में एक गोली मारी। नीचे गिरने के बाद मोटरसाइकिल से उतरकर आए एक बदमाश ने सीने पर भी गोली मारी। मौके से पुलिस को दो खोल मिले हैं। युवराजसिंह चौहान मंदसौर में एसआरएम केबल नेटवर्क का संचालन करते थे। हत्या की एक वजह केबल वॉर भी बताई जा रही है। पुलिस ने तीनों शूटरों की पहचान कर ली है पर अभी नाम नहीं बताए जा रहे हैं। वहीं, मामले में कुछ संदिग्धों को भी उठाया है।

एसपी हितेश चौधरी ने दोपहर लगभग 12 बजे घटनास्थल का मौका मुआयना किया। जिला अस्पताल और उसके आस-पास के क्षेत्र में पुलिस सुरक्षा भी बढ़ा दी गई। दोपहर में पीएम के बाद शव परिजन को सौंप दिया गया। अब 10 अक्टूबर को सुबह अंतिम संस्कार होगा। शाम को उज्जैन आईजी राकेश गुप्ता, रतलाम डीआईजी गौरव राजपूत भी मंदसौर पहुंचे और घटनास्थल का निरीक्षण किया। बाद में अधिकारियों के साथ बैठक भी की। आईजी राकेश गुप्ता ने बताया कि अभी पहली नजर में केबल वॉर का ही लग रहा है। पुलिस की जांच जारी है। संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है।

आज एसपी कार्यालय का घेराव

भाजपा जिलाध्यक्ष राजेंद्र सुराना ने बताया कि 10 अक्टूबर को शहर में लगातार हो रही हत्याओं के विरोध में भाजपा दोपहर तीन बजे मंदसौर में एसपी कार्यालय का घेराव कर ज्ञापन सौंपेंगे।

शामगढ़ में भी हुई जांच

युवराजसिंह चौहान की गोली मारकर हत्या के बाद शामगढ़ पुलिस ने नगर के चारों तरफ नाकाबंदी कर विशेष चैकिंग अभियान चलाया। एएसआई बलवीरसिंह यादव ने नगर की सीमा के बाहर बाइक व चार पहिया वाहनों को रोककर जांच पड़ताल की।

भाजपा करेगी एसपी कार्यालय का घेराव

मंदसौर। भाजपा प्रदेश महामंत्री बंशीलाल गुर्जर एवं जिलाध्यक्ष राजेंद्र सुराणा ने बताया कि 10 अक्टूबर को दोपहर तीन बजे एसपी कार्यालय का घेराव कर ज्ञापन सौंपा जाएगा। मंदसौर में जिस तरह से निरंतर एक के बाद एक आपराधिक घटनाएं हो रही है इसमें लूट, फिरौती, मारपीट एवं हत्याओं का सिलसिला चालू हो गया है। मंदसौर में नपाध्यक्ष प्रहलाद बंधवार, सोने चांदी के व्यापारी अनिल सोनी की भी सरे बाजार हत्या कर दी गई थी। निरंतर अपराधिक घटनाओं का होना एवं प्रशासन द्वारा अपराधिक गतिविधियों पर अंकुश नहीं लगा पाने से निरंतर आपराधिक प्रवृत्तियां बढ़ रही है। बुधवार को जिस तरह दिनदहाड़े कुछ बदमाशों द्वारा आरएसएस के पूर्व पदाधिकारी व विहिप नेता युवराजसिंह चौहान को सरे बाजार गोली मारकर हत्या कर दी गई है।

कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने भी की जघन्य हत्या की भर्त्सना

युवराजसिंह चौहान को गोली मारने की जानकारी मिलते ही जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रातड़िया जिला चिकित्सालय पहुंचे। रातड़िया ने जघन्य हत्या की भर्त्सना करते हुए एसपी हितेश चौेधरी से चर्चा की व अपराधियों को तत्काल गिरफ्तार कर कठोर कार्रवाई करने की मांग की।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local