राजगढ़। जिले के खुजनेर में शुक्रवार को गणतंत्र दिवस के मुख्य समारोह में दो पक्षों में विवाद के बाद उपद्रव हो गया। इस घटना में चार स्कूली बच्चों समेत 12 लोग घायल हो गए। पुलिस ने एहतियात के तौर पर खुजनेर में बल तैनात कर दिया है। साथ ही दोनों पक्षों के 16 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच में ले लिया है।

शिकायत में एक पक्ष ने कार्यक्रम के दौरान बज रहे गाने को बंद करने का दबाव बनाते हुए देश के खिलाफ नारे लगाने और मारपीट करने का दूसरे पक्ष पर आरोप लगाया है, जबकि दूसरे ने घूरने को लेकर विवाद में मारपीट की शिकायत की है। इस संबंध में एसपी प्रशांत खरे का कहना है कि स्थिति नियंत्रित है। प्रारंभिक तौर पर मारपीट समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर जांच की जा रही है, इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस को की गई शिकायत के अनुसार खुजनेर के बस स्टैंड के पास मांगलिक भवन परिसर में शुक्रवार को गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह नगर परिषद अध्यक्ष पंकज शर्मा के मुख्य आतिथ्य में आयोजित किया गया था। इस दौरान देशभक्ति गीत बज रहा था, तभी गीत बंद करने को लेकर विवाद हो गया। इसके बाद वहां मौजूद एक पक्ष के लोगों ने देश के खिलाफ नारे लगाते हुए कुर्सियां फेंककर तोड़ दी।

थोड़ी देर बाद कुछ और लोग हथियार लेकर समारोह स्थल पर पहुंच गए और मारपीट शुरू कर दी। इस दौरान कार्यक्रम स्थल पर भगदड़ मचने से चार स्कूली बच्चे समेत 12 लोग घायल हो गए। इधर पुलिस ने मामले में रविवार को छह लोगों को हिरासत में लिया है।

पुलिस के मुताबिक गणतंत्र दिवस के समारोह में तोड़फोड़, लाठी-फर्से से मारपीट करने पर एक पक्ष के 9 लोग समद खां, बल्ला खां, सेठा उर्फ जाकिर खां, अबरार खां, शाकिर खां, अय्यूब खां, इम्तियाज खां एवं समीर खां के खिलाफ बलवा, मारपीट सहित अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।

वहीं दूसरे पक्ष के अंकित यादव, कपिल यादव, सोपान यादव, कमल यादव, हरिओम यादव, कमल भानेज एवं बंटी यादव के खिलाफ भी बलवा, मारपीट सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

अनिश्चितकाल के लिए बाजार बंद

इस मामले में दूसरे पक्ष के सात लोगों को आरोपी बनाए जाने पर लोगों और व्यापारियों ने अनिश्चितकाल के लिए बाजार बंद का एलान किया है। उनका कहना है कि इन लोगों को बेवजह आरोपी बनाया गया है। इन लोगों ने कार्यक्रम स्थल पर भगदड़ को रोकने के साथ ही मौजूद बच्चों को भगदड़ से बचाया है। पुलिस ने दबाव में आकर उन्हें ही आरोपी बना दिया।

मामूली झगड़ा था

देश के खिलाफ नारे लगाने के कोई सबूत नहीं हैं। कार्यक्रम में वीडियो बनाने को लेकर मामूली झगड़ा हुआ था। घटना की लेकर पुलिस द्वारा रिपोर्ट दे दी गई है।

- बाला बच्चन, गृहमंत्री मप्र

जांच के बाद करेंगे देशद्रोह का मामला दर्ज

मामला जांच में है। बयान एवं सीसीटीवी की रिकॉर्डिंग व अन्य सबूतों के आधार पर देशद्रोह की कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल पुलिस बल तैनात है और खुजनेर में शांति है। शाम को बाजार भी खुलना शुरू हो गए थे। छह लोगों को हिरासत में भी ले लिया गया है।

- प्रशांत खरे, एसपी राजगढ़

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस