रतलाम/कमेड़। बिलपांक थाना क्षेत्र के ग्राम कमेड़ में आरएसएस के जिला घोष प्रमुख संजय पाटीदार के चेचेरे भाई और संघ के स्वयं सेवक हिम्मत पाटीदार (36) की उनके ही खेत में गला रेत कर हत्या कर दी गई। हत्या के बाद पहचान छिपाने के लिए उनका चेहरा भी जला दिया गया।

जानकारी अनुसार हिम्मत पाटीदार मंगलवार रात करीब एक बजे बाइक लेकर घर से करीब एक किमी दूर स्थित खेत पर सिंचाई के लिए गए थे। रात में ही उनकी गला रेत कर हत्या कर कर दी गई। बुधवार सुबह तक घर नहीं लौटने पर पिता लक्ष्मीनारायण पाटीदार देखने खेत पर गए। वहां उन्हें हिम्मत का शव मिला।

बाइक शव से कुछ दूर खड़ी थी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने डॉग स्क्वाड भी बुलवाया और शव व घटनास्थल की जांच की। जांच के बाद दोपहर में पोस्टमार्टम के बाद शव परिजन को सौंप दिया गया। हत्या के कारणों का खुलासा नहीं हुआ है। मामला प्रेम प्रसंग से जुड़ा होने की बात भी कही जा रही है।

गांव के एक व्यक्ति पर पुलिस को शंका है। पुलिस ने उसके घर दबिश दी थी लेकिन वह नहीं मिला। विधायक दिलीप मकवाना, एएसपी प्रदीप शर्मा, रतलाम ग्रामीण एसडीओपी मानसिंह चौहान, एफएसएल अधिकारी डॉ. अतुल मित्तल, बिलपांक थाना इंचार्ज (एसआई) केसी मालवीय आदि पहुंचे। शाम को एसपी गौरव तिवारी घटनास्थल पहुंचकर ग्रामीणों से चर्चा की।

अपराधी को तत्काल पकड़ें

परिजन और विधायक मकवाना ने पुलिस से अपराधी को तत्काल पकड़कर सख्त सजा दिलवाने की मांग की है। विधायक मकवाना ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि कांग्रेस की सरकार आने के बाद प्रदेश में भाजपा व संघ से जुड़े लोगोंं की हत्याएं हो रही है। हिम्मत व परिवार आरएसएस से जुड़ा हुआ है। हिम्मत मंडल कार्यवाह भी रहे हैं। उनकी निर्मम तरीके से हत्या की गई है। हत्यारा कोई भी हो उसे 24 घंटे में पकड़कर सजा दी जाए।

इनका कहना है

हत्या के मामले में महत्वपूर्ण सुराग मिले हैं। गांव का एक युवक रात में घटना स्थल के आसपास देखा भी गया है। वह गांव से भाग गया है। उसकी तलाश कर रहे हैं। प्रथम दृष्टया मामला प्रेम प्रसंग से जुड़ा होने की जानकारी मिली है।

-एसपी गौरव तिवारी

--

--

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket