Mahakal Temple Ujjain: उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर में शनिवार से मंगलवार तक चार दिन आस्था का सैलाब उमड़ेगा। अवकाश के दिनों में देशभर से बड़ी संख्या में भक्तों के महाकाल दर्शन करने आने का अनुमान है। अगर दर्शनार्थियों की संख्या अधिक रही, तो मंदिर प्रशासन सुगम दर्शन के लिए नंदीहॉल में भक्तों का प्रवेश बंद करने का निर्णय लेगा।

जनवरी के आखिरी सप्ताह में 23 जनवरी को चौथे शनिवार का अवकाश रहेगा। 24 जनवरी को रविवार, 25 जनवरी को सोमवार तथा 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस का अवकाश होने से चार दिन मंदिर में भारी भीड़ रहेगी। देशभर के श्रद्धालुओं ने महाकाल दर्शन के लिए अभी से अग्रिम बुकिंग करना शुरू कर दिया है। चार दिनों के लिए अधिकांश स्लॉट में दर्शन की बुकिंग फुल बताई जा रही है।

बता दें महाकाल मंदिर में प्रतिदिन सुबह 6 से रात्रि 10 बजे तक भक्तों को भगवान महाकाल के दर्शन कराए जा रहे हैं। श्रद्धालु प्रतिदिन 8 स्लॉट में दर्शन की अग्रिम बुकिंग करा सकते हैं। प्रत्येक स्टॉल 3500 भक्तों की बुकिंग की जा रही है। इसके अनुसार रोजाना 28 हजार भक्तों को महाकाल दर्शन की सुविधा उपलब्ध है। जो भक्त दर्शन की अग्रिम बुकिंग नहीं करा पाए हैं, वें मंदिर स्थित काउंटर से 250 रुपये का शीघ्र दर्शन टिकट खरीदकर सीधे प्रवेश कर सकते हैं।

इन द्वारों से मिलेगा प्रवेश

-सामान्य व 250 रुपये के शीध्र दर्शन टिकट वाले दर्शनार्थियों को शंख द्वार से मंदिर में प्रवेश दिया जाएगा।

-प्रोटोकॉल के तहत आने वाले श्रद्धालुओं को गेट नं.4 से प्रवेश मिलेगा।

-दर्शन के उपरांत सभी दर्शनार्थी मंदिर के पीछे निर्गम द्वारा से बाहर निकलेंगे।

यह सुविधाएं निशुल्क

-सामान्य व शीघ्र दर्शन टिकट वाले दर्शनार्थियों के लिए मंदिर के शंख द्वार के समीप जूता स्टैंड व क्लॉक रूम की निशुल्क सुविधा उपलब्ध रहेगी।

-प्रोटोकॉल वाले श्रद्धालुओं के लिए गेट नं.4 के समीप जूता स्टैंड व क्लॉक रूम बनाया गया है।

60 क्विटल लड्डू प्रसाद स्टॉक में

आने वाले चार दिन अत्यधिक भीड़ की स्थिति को देखते हुए मंदिर प्रशासन ने लड्डू प्रसाद का स्टॉक कर लिया है। लड्डू प्रसाद निर्माण इकाई के प्रभारी मिलिंद वैद्य ने बताया 60 क्विटल लड्डू प्रसाद का स्टॉक तैयार है। साथ ही लगातार लड्डू निर्माण किया जा रहा है। बतादें मंदिर में 25 दिसंबर के बाद से लगातार लड्डू प्रसाद की कमी देखी जा रही थी। कई श्रद्धालु बिना प्रसाद खरीदे लौट रहे थे। ऐसे में आने वाले चार दिन में अधिक संख्या में श्रद्धालुओं के आने की संभावना को देखते हुए व्यापक इंतजाम किए गए हैं।

परिस्थिति के अनुसार लेंगे निर्णय

अवकाश के दिनों में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के महाकाल दर्शन करने आने की संभावना है। भीड़ की स्थिति को देखते हुए वरिष्ठ अधिकारियों से परामर्श के बाद नंदी हॉल में प्रवेश प्रतिबंधित करने का निर्णय लिया जाएगा।

---मूलचंद जोनवाल, सहायक प्रशासक महाकाल मंदिर

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags