उमरिया(नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना काल में बंद की गई कई ट्रेनें अभी तक नहीं चलाई गई हैं और जो चल रहीं हैं उनका भी स्टॉपेज उमरिया जिले के सभी स्टेशनों में नहीं है। इस बात को लेकर जिले की गरीब जनता सबसे ज्यादा परेशान हैं और इस परेशानी को लेकर जब जनता विधायक शिवनारायण सिंह के पास पहुंची तो उन्होंने भी कोई समाधान तलाशने की जगह जनता के साथ जाकर डीआरएम के नाम एक ज्ञापन नौरोजाबाद रेलवे स्टेशन मास्टर को सौंप दिया। हालांकि जनता का कहना है कि यह मामला विधायक को सीएम के सामने रखकर उच्च स्तर पर उठाना चाहिए और इस मामले में सांसद से भी चर्चा करनी चाहिए।

ज्ञापन में रखीं यह बातें: उमरिया जिले के नौरोजाबाद, पाली और चंदिया रेलवे स्टेशन में कोरोना काल में बंद हुई ट्रेन का संचालन पुनः करने एवं जिन ट्रेने का संचालन हो रहा है उनका स्टापेज नौरोजाबाद रेलवे स्टेशन किये जाने के लिए विधायक शिवनारायण सिंह ने भाजपा के क्षेत्रीय नेताओ की उपस्थिति में डीआरएम के नाम एक ज्ञापन नौरोजाबाद रेलवे स्टेशन मास्टर को सौंप दिया। ज्ञापन में मांग की गई है कि नौरोजाबाद रेलवे स्टेशन में जो ट्रेने अभी चल रही है, उन ट्रेनों का स्टापेज किया जाए और जो ट्रेने बंद है उनका परिचालन पुनः किया जाए। विधायक ने कहा कि नौरोजाबाद रेलवे के लिए कमाई वाला स्टेशन है यहाँ से प्रतिदिन लाखो रूपये का कोयले का परिवहन मालगाड़ी के द्वारा किया जाता है।

उमरिया, चंदिया और पाली के लोग भी परेशानः ट्रेनें नहीं चलने से और चलने वाली ट्रेनों के स्टॉपेज नहीं होने से सिर्फ नौरोजाबाद के लोग ही परेशान नहीं हैं बल्कि उमरिया, चंदिया और पाली के लोग भी परेशान हैं। हालांकि विधायक ने अपने ज्ञापन में सिर्फ नौरोजाबाद रेलवे स्टेशन का मामला ही उठाया है। उन्हें उमरिया जिला मुख्यालय के रेलवे स्टेशन के साथ जिले के दूसरे रेलवे स्टेशन का मामला भी उठाना चाहिए था। चंदिया के लोगों ने तो अब इस मामले में आंदोलन करने का मन बना लिया है और किसी भी दिन धरने पर बैठ सकते हैं। चंदिया के लोगों ने पिछले दिनों एक ज्ञापन सौंपा था लेकिन अभी तक उनकी मांग पर ध्यान नहीं दिया गया है। उमरिया में भी ज्ञापन सौंपा जा चुका है लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला है।

होता है अच्छा कलेक्शनः विधायक ने कहा कि यह स्टेशन रेलवे के लिए घाटे स्टेशन नहीं है। इस स्टेशन से यात्री भाड़ा का कलेक्शन भी बहुत ही अच्छा होता। फिर ट्रेनों का स्टापेज क्यों बंद है। ट्रेनों के बंद होने से माँ ज्वाला धाम उचेहरा में प्रतिदिन सैकड़ो की संख्या में दर्शनार्थी ट्रेन से आते थे जो अब नहीं आ पा रहे हैं। जिसकी वजह से अब नौरोजाबाद रेलवे स्टेशन सूना रहता है और इससका असर न सिर्फ ऑटो चालकों पर हो रहा है बल्कि स्टेशन के पास चाय-नश्ते का होटल चलाने वाले भी परेशान हैं। कई अन्य लोगो के जीवकोपार्जन में कठिनाइयों सामाना करना पड़ रहा है। व्यापार पूरी तरह से चौपट हो गया है।

दैनिक यात्री हो रहे परेशानः ट्रेनों के बंद होने से नौरोजाबाद के छात्रों को भी परेशानी उठानी पड़ रही है। नौरोजाबाद के छात्र उमरिया, शहडोल, कटनी प्रतिदिन जा कर पढाई कर रहे थे, उनकी भी पढाई लिखाई प्रभावित हुई है। इन सभी बातो को ध्यान रख कर बांधवगढ़ विधायक शिवनारायण सिंह ने ट्रेनों के स्टापेज को लेकर यह ज्ञापन दिया है। इस मौके पर बांधवगढ़ विधायक शिवनारायण सिंह ने बताया की ट्रेनों के संचालन ना होने से गरीब आदिवासी, छात्र, किसान एवं व्यापारी वर्ग सहित कई अन्य लोग काफी परेशान हो रहा है, आर्थिक रूप से भी टूट रहा है। इस दौरान योगेश द्विवेदी, राकेश द्विवेदी, सूर्यकान्त मिश्रा, राम मिलान यादव, राजेश यादव, प्रकाश तिवारी, संतोष तिवारी काकू, राम नरेश महोबिया, प्रमोद सिंह, रमेश सोनी, शुभम मिश्रा सहित सैकड़ो की संख्या में भाजपा कार्यकर्त्ता रहे उपस्थित थे।

इन ट्रेनों के स्टॉपेज की मांग

08477-08478 हरिद्वार पूरी कलिंग उत्कल एक्स्प्रेस,

08447-08448 बिलासपुर रीवा,

कोरोना काल से बंद इन ट्रेनों के संचालन की मांग

51605-51606 चिरमिरी कटनी पैसेंजर,

58221-58222 चिरमिरी चंदिया रोड,

68747-68748 बिलासपुर कटनी मेमो,

18235-18236 बिलासपुर भोपाल पैसेंजर

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close