कासगंज। गणतंत्र दिवस के मौके पर कासगंज में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की तिरंगा यात्रा में सांप्रदायिक बवाल हो गया। शहर में निकल रही इस तिरंगा यात्रा पर सम्प्रदाय विशेष के लोगों ने पथराव कर दिया।

इससे माहौल बिगड़ गया। पथराव से भड़के माहौल के बीच आगजनी भी शुरू हो गई। वहीं फायरिंग में घायल दो लोगों में से एक की मौत हो गई। फिलहाल शहर में कर्फ्यू जैसा माहौल बना है। इस तिरंगा यात्रा के दौरान हुए पथराव में दर्जनों गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गईं।

ऐसे बिगड़े हालात -

शहर के बडडू नगर मोहल्ले में तिरंगा यात्रा को लेकर दो वर्गों के युवक भिड़ गए। युवकों के बीच कहासुनी के बाद मारपीट और पथराव के बाद फायरिंग भी शुरू हो गई। जिसमें दो लोगों को गोली लगी और गंभीर रूप से घायल चंदन की मौत हो गई। पुलिस ने दोनों वर्ग से आधा दर्जन लोगों को अपनी हिरासत में लिया है। इसके बाद भी शहर में तनाव बरकरार है। बवाल के दौरान लोगों ने कबाड़ में भी आग लगा दी। आनन-फानन में आग पर काबू पाया गया। इस बवाल के कारण आगरा-मथुरा की ओर से आने वाले वाहनों का मार्ग बदला गया है।

एक वर्ग के युवा तीन दर्जन बाइकों पर तिरंगा यात्रा एवं जुलूस निकाल रहे थे। तिरंगा यात्रा का काफिला जब शहर के बड्डू नगर मोहल्ले में पहुंचा, तो वहां मौजूद दूसरे वर्ग के युवकों ने किसी बात को लेकर उनका विरोध किया। इसके बाद दोनों वर्गों के युवकों के बीच विवाद शुरू हो गया और मारपीट व पथराव शुरू हो गया। मारपीट व पथराव तेज होने की वजह से तिरंगा यात्रा निकाल रहे युवक बाइक छोड़ भाग खड़े हुए। इस दौरान किसी ने दो फायर भी किए। जिससे शहर में तनावपूर्ण स्थित पैदा हो गई।

पथराव में मथुरा-बरेली हाईवे से गुजर रहा एक ट्रक, दो मैजिक व तीन स्कार्पियो कार क्षतिग्रस्त हुई हैं। पुलिस अधिकारी मौके पर हैं। जनपद के सभी थानों की पुलिस को कासगंज पहुंचने के लिए कहा गया हैै।

कबाड़ में आग लगाकर फैलाई दहशत -

बवाल के दौरान शहर के बस स्टेंड रोड पर पेट्रोल पंप के पास उपद्रव करने वालों ने कबाड़े मे आग लगा दी। जिससे पूरे इलाके में दहशत फैल गई। पुलिस फोर्स ने पहुंचकर दमकल बुलाकर आग पर काबू पाया। डीएम और एसपी भी मौके पर पहुंच गए हैं।