Exit Polls Delhi MCD election 2022: दिल्ली एमसीडी चुनाव के एग्जिट पोल आ गए हैं। एग्जिट पोल में आम आदमी पार्टी के पक्ष में है। ज्यादातर एग्जिट पोल में आप को बहुमत के संकेत मिले हैं। वहीं, बीजेपी दूसरे नंबर और कांग्रेस तीसरे नंबर पर रह सकती है। एग्जिट पोल दरअसल मतदाताओं से रायशुमारी होती है। इनसे रिजल्ट से पहले सरकार का संकेत मिल जाता है। इस बार दिल्ली नगर निगम चुनाव में करीब 50 फीसदी ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। यह पिछली बार से करीब 3 प्रतिशत कम है। इसके साथ ही दिल्ली नगर निगम के 250 वॉर्ड के रिजल्ट लॉक हो चुके हैं। परिणाम 7 दिसंबर को आएगा।

Delhi MCD Election 2022 Exit Polls Updates:

जी न्यूज के एग्जिट पोल में आप को स्पष्ट बहुमत के संकेत

भाजपा- 82-94

आप- 134-146

कांग्रेस- 8-14

अन्य- 14-19

TV9- ऑन द स्पॉट MCD चुनाव एग्जिट पोल

बीजेपी- 92-96

आप- 140-150

कांग्रेस- 6-10

अन्य- 03

इंडिया न्यूज जन की बात का एग्जिट पोल

बीजेपी- 70 से 92

आप- 159 से 175

कांग्रेस- 7 से 4

अन्य -1

टाइम्स नाऊ एग्जिट पोल में आम आदमी पार्टी को स्पष्ट बहुमत

आप- 146-156

भाजपा- 84-94

कांग्रेस- 6-10

अन्य- 0-4

आम आदमी को बढ़त

इंडिया टुडे एक्सिस माइ इंडिया के अनुसार, आप को 149 से 171 सीटें मिलने का अनुमान है। भाजपा को 69-91 सीट मिल सकती है, जबकि कांग्रेस को 3-7 सीटें मिलती नजर आ रही है। अन्य को 5-9 सीटें मिलने का अनुमान है।

किसे कितने वोट मिले

चुनाव में भाजपा को 35% वोट मिले है। वहीं, आम आदमी पार्टी को 43% लोगों ने वोट दिया है। कांग्रेस को 10% वोट मिले।

MCD चुनावों में पिछड़ी भाजपा

इंडिया टुडे एक्सिस माय इंडिया के अनुसार, भाजपा चुनावों में पिछड़ती नजर आ रही है। एग्जिट पोल के मुताबिक, बीजेपी को 34% महिलाओं ने वोट दिया है। वहीं, 36% पुरुषों ने वोट दिया।

चुनाव में आप के लिए अच्छी खबर

निकाय चुनाव में आम आदमी पार्टी के लिए अच्छी खबर सामने आ रही है। एग्जिट पोल के मुताबिक आप को 46% औरतों ने वोट किया है। वहीं 40% पुरुषों ने पार्टी को वोट दिया है।

परिसीमन के बाद पहला चुनाव

दिल्ली MCD चुनाव में हाल ही में परिसीमन हुआ था। जिसके बाद ये पहला निकाय इलेक्शन है। राजधानी में 13,638 पोलिंग बूथ बनाए। चुनाव में 56 हजार ईवीएम का इस्तेमाल हुआ।

इस बार दिल्ली एमसीडी चुनाव का सीन पिछले चुनाव से बिल्कुल अलग है। साल 2012 तक एमसीडी में मुख्य मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच हुआ करता था। राजधानी की राजनीति में आम आदमी पार्टी के एंट्री के बाद मुकाबला त्रिकोणीय हो गया। फिर आप कांग्रेस को पछाड़कर बीजेपी की मुख्य प्रतिद्वंद्वी बन गई। वर्ष 2012 के इलेक्शन में नगर निगम चुनाव में कांग्रेस और बीजेपी के बीच सीधा मुकाबला था।

उस चुनाव में भाजपा 36.74% वोट पाकर पार्टी बनी थी। कांग्रेस 30.54% वोटों के साथ दूसरे स्थान पर थी। 2017 के चुनाव में आप की एंट्री के बाद बीजेपी अपनी सरकार बचाने में कामयाब रही थी। कांग्रेस को बड़ा झटका लगा। भाजपा को 36.02% वोट मिले थे, जबकि आम आदमी पार्टी ने कांग्रेस को बड़ा नुकसान पहुंचाया और 26.21% वोट के साथ दूसरे नंबर पर रही। वहीं, कांग्रेस 21.21% वोटों के साथ तीसरे नंबर पर रही।

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close