EPFO (कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन) और ESIC (कर्मचारी राज्‍य बीमा निगम) ने कर्मचारियों के हित में कुछ नई घोषणाएं की हैं। देश भर के लाखों कर्मचारियों के लिए यह अच्‍छी खबर है। इनका बड़ी संख्‍या में नौकरीपेशा लोगों को फायदा होगा। इन घोषणाओं में मुख्‍य रूप से कर्मचारी अंशदान में कटौती है, जिससे अनेक लोग लाभान्वित होंगे। इनके बारे में EPFO, ESIC श्रम मंत्रालय Ministry of Labourऔर EPFO Social पर विजिट करके बेहद उपयोगी जानकारियां और नई घोषणाओं के बारे में पता किया जा सकता है। यहां विस्‍तार से जानिये इन फैसलों का खाताधारकों पर क्‍या असर पड़ेगा।

- ESIC ने नियोक्ताओं के लिए मासिक ESI योगदान की दर 4.75% से घटाकर 3.25% और कर्मचारियों के लिए 1.75% से 0.75 कर दी है।

- कर्मचारियों को एक और सौगात मिली है। फरवरी, 2020 और मार्च, 2020 के लिए ESI का कांट्रीब्‍यूशन अब क्रमशः 15 मार्च, 2020 और 15 अप्रैल, 2020 के बजाय 15 अप्रैल, 2020 और 15 मई 2020 तक भरा जा सकेगा।

- ESIC ने बताया है कि “चिन्ता से मुक्ति” “Chinta Se Mukti“ Mobile App मोबाइल ऐप भारत सरकार के UMANG प्लेटफॉर्म पर अब उपलब्ध है। भारत की। इस ऐप के साथ, बीमित व्यक्ति अपने कांट्रीब्‍यूशन हिस्‍ट्री, पर्सनल प्रोफ़ाइल, दावे की स्थिति और लाभ के लिए उनके अधिकार को भी देख सकते हैं।

- ईपीएफओ के सभी क्षेत्रीय कार्यालयों में हर महीने की 10 तारीख को (छुट्टी के मामले में अगला कार्य दिवस) "निधि एप निकहत" कार्यक्रम आयोजित करता है। सभी ग्राहक अपने संशय, सवालों सहित अपनी प्रतिक्रिया प्रस्‍तुत करने के लिए हर महीने NIDHI AAPKE NIKAT में शामिल हों।

- ईपीएस पेंशनर्स जिन्होंने अपना #DigitalLifeCert सर्टिफिकेट अभी तक जमा नहीं किया है, वे अब वर्ष के किसी भी समय ऑनलाइन जीवन प्रमाण पत्र प्रस्तुत कर सकते हैं। #LifeCertificate अपनी सबमिशन की तारीख से 1 साल के लिए वैध रहेगा।

- अब नई सार्वजनिक और निजी लिमिटेड कंपनियों और एक व्यक्ति कंपनी को EPFO & ESIC on MCA portal एमसीए पोर्टल पर ईपीएफओ और ईएसआईसी के लिए रजिस्‍ट्रेशन की संख्या मिल जाएगी। यह नियम 15.02.2020 से हो चुका है।

- मातृत्व अवकाश Maternity Leaveकी अवधि बढ़ा दी गई है। अभी तक यह अवकाश 12 सप्‍ताह का था, जिसे अब बढ़ाकर 26 सप्‍ताह का कर दिया गया है। यानी अभी तक यह अवकाश पूरे 84 दिनों का था, जो कि अब 182 दिन का कर दिया गया है। यह अवधि 6 महीने की अवधि से भी अधिक है। श्रम मंत्री संतोष गंगवार Santosh Gangwar ने Tweet करके इसकी जानकारी दी है।

- अब नेशनल करियर सर्विस पोर्टल National Career Service - India पर उपलब्ध वीडियो प्रोफाइल की नई सुविधा का लाभ उठाएं और अपने नौकरी प्राप्त करने के अवसरों को बढ़ाएं। अधिक जानकारी के लिए आज ही http://ncs.gov.in पर रजिस्टर करें।

#NCSIndia #MoLEIndia #Videoprofile #NCSVideoCV #VideoResume #Jobs #Vacancies

- EPFO ने ग्राहकों से यह भी कहा है कि ईपीएफओ आपसे कभी भी अपनी डिटेल शेयर करने या Bank बैंक में कोई राशि जमा करने के लिए नहीं कहता है। फोन पर अपनी Personal Details व्यक्तिगत जानकारी का खुलासा न करें।

कामकाजी महिलाओं को मिली सौगात, वेतन और लीव को लेकर सरकार ने लिया यह बड़ा फैसला

New Rules : कर्मचारियों के लिए अच्‍छी खबर, सरकार ने लागू किए नए नियम, होंगे कई फायदे

Pension Scheme : सरकारी कर्मचारियों के लिए खुशखबरी बड़ी राहत, पेंशन योजना पर केंद्र का अहम फैसला

सरकार ने Pension commutation व्‍यवस्‍था की बहाल, EPFO का फैसला होगा लागू

PF Rules: प्राइवेट जॉब वालों को राहत, सरकार की इस योजना से लाखों कर्मचारियों को फायदा

EPFO कर्मचारी भविष्य निधि संगठन में लगभग हर कर्माचारी का अंशदान कटता है और आपकी मेहनत की कमाई यहां जमा होती है। कई बार इसी कमाई का छोटा सा हिस्सा लेना आपके लिए काफी परेशानी भरा साबित होता है। वहीं अक्सर देखा जाता है कि लोगों को EPFO के बदले नियमों और सुविधाओं की जनकारी नहीं होती जिस वजह से उन्हें परेशान होना पड़ता है। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा, ऑनलाइन के साथ ही EPFO ने कर्माचारियों के लिए एक ऐसी सुविधा शुरू की है जिससे किसी विशेष नहीं बल्कि EPFO के 4.5 करोड़ सदस्यों को फायदा पहुंचेगा।

इस सुविधा के बारे में आपको शायद ही पता हो लेकिन इसकी वजह से आपकी समस्याओं का समाधान बिना किसी दिक्कत के हो जाएगा। इसका ज्यादा फायदा उन पेंशनर्स Pensioners को होगा जो बार-बार पीएफ ऑफिस के चक्कर नहीं लगा सकते।

हम बात कर रहे हैं EPFO द्वा शुरू की गई ‘निधि आपके निकट’ (Nidhi Apke Nikat) सुविधा कि जिसका फायदा EPFO Pensioners और सदस्यों को होगा। यह सुविधा हर महीने की 10 तारीख को आपके करीब उपलब्ध होगी। EPFO द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, ईपीएफओ हर महीने की 10 तारीख को अपने हर क्षेत्रीय कार्यलय में ‘निधि आपके निकट’ (Nidhi Apke Nikat) प्रोग्राम का आयोजन करता है। इसमें आपको अपनी समस्याओं का समाधान मिलेगा। अगर किसी महीने की 10 तारीख को छुट्टी होती है तो उसके अगले कार्यदिवस के दिन यह आयोजन किया जाएगा।

‘निधि आपके निकट’ (Nidhi Apke Nikat) के दौरान पेंशनर्स या कर्मचारी विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से सीधे बात कर सकते हैं और अपनी समस्या का समाधान मांग सकते हैं। अधिकारी समस्याओं को सुनकर उनके समाधान की प्रक्रिया शुरू करेंगे। EPFO की इस सुविधा का मकसद है कि सभी हितधारकों को एक प्लेटफॉर्म पर लाया जाए और उन्हें ईपीएफओ द्वारा की जा रही नई पहलों के बारे में जानकारी दी जा सके।

जहां एक तरफ देश में Coronavirus की वजह से Lockdown है और चारों तरफ कारोबार और व्यापार बंद है वहीं लाखों लोगों के पास रोजगार नहीं रहा। आने वाले समय में लोगों को अपनी नौकरी खोने का डर भी सताने लगा है। हालांकि, सरकार ने साफ कहा है कि कंपनियों अपने कर्माचारियों को तनख्वाह दे ताकि उन्हें आर्थिक मुश्किलों का सामना ना करना पड़े। ऐसे में हम आपको एक ऐसी स्कीम के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं जिसकी मदद से अचानक नौकरी छूट जाने पर व्यक्ति को 2 साल तक के लिए आर्थिक मदद मिलती रहती है। यह स्कीम है अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना Atal Bimit Vyakti Yojana जो ESIC के तहत आती है।

इस योजना का लाभ उन लोगों को मिलेगा जिनकी कंपनी हर महीने उनका EPF और ESI काटती है। ऐसे लोगों को अचानक नौकरी चले जाने, कंपनी बंद हो जाने पर केंद्र सरकार आपको 24 महीने तक पैसे देगी। इस योजना को लेकर ESIC ने कहा है कि अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना' के तहत आपकी नौकरी जाने पर सरकार आपको आर्थिक मदद देती है। किसी वजह से आपका रोजगार छूट जाने का मतलब आपकी आमदनी का नुकसान होना नहीं है। ईएसआईसी रोजगार की अनैच्छिक हानि या गैर-रोजगार चोट के कारण स्थायी अशक्तता के मामले में 24 माह की अवधि के लिए आपको मासिक नकद राशि का भुगतान करता है।

कैसे और किसे मिलेगा इसका फायदा

इसका फायदा वो लोग ले सकते हैं जो ESIC में अंशदान देते हैं। Atal Bimit Vyakti Yojana के लिए रजिस्ट्रेशन करना है तो इसके लिए आपको योजना का फार्म डाउनलोड करना पड़ेगा। इसके बाद इस फार्म को भरकर आपको अपने पास के ESIC दफ्तर जाना होगा। साथ ही इसके साथ 20 रुपए का नॉन-ज्यूडिशियल स्टांप नोटरी से एफिडेविड करके देना होगा। इसमें AB-1 से लेकर AB-4 तक के फार्म जमा करवाए जाएंगे।

इस स्कीम का फायदा वो लोग ले सकेंगे जो ESIC के तहत बीमित हैं। वहीं जिन पर कोई आपराधिक मुकदमा हो या VRS लिया हो वो इसका फयादा नहीं ले सकते। साथ ही इस योजना का फायदा आप एक ही बार ले सकते हैं।

Lockdown के बीच सरकार ने आम आदमी और गरीब को बड़ी राहत दी है और इसके लिए पिछले महीने ही वित्त मंत्री ने पैकेज का ऐलान किया था। इस पैकेज में जहां जनधन खाते में हर महीने 500 रुपए देने के साथ ही मुफ्त LPG सिलेंडर के अलावा किसानों को भी किसान योजना के तहत राहत दी गई है। सरकार ने यह रकन सीधे बैंक खाते में हर महीने के हिसाब से ट्रांसफर करने का ऐलान किया था और यह करना भी शुरू कर दिया है। किसी भी तरह के ऑनलाइन पेमेंट की रकम इन दिनों सीधे ही बैंक खाते में आ जाती है। अब अगर आप भी बैंक नहीं जा पा रहे हैं तो जानिए कैसे घर बैठे आप अपने मोबाइल से ही यह जान सकते हैं कि आपके जनधन खाते में पैसे आए या नहीं या फिर LPG सिलेंडर पर मिलने वाली सब्सिडी पहुंची या नहीं। इसके लिए आपको कुछ स्टेप्स फॉलो करने होंगे और इनकी मदद से आप आसानी से यह जान सकेंगे कि आपके खाते में पैसे आए या नहीं। हम आपको बताते हैं इसकी पूरी प्रक्रिया। यह है तरीका - इसके लिए आपको सबसे पहले आपको https://pfms.nic.in/NewDefaultHome.aspx पर क्लिक करके Public Financial Management System PFMS पर जाना होगा। - यहां आपको Know Your Payments के विकल्प पर क्लिक करना होगा। - इसके खुलने में थोड़ी परेशानी हो सकती है लेकिन इसके खुलते ही आपको यहां बैंक का नाम डालना होगा। - इसके बाद उसमें अपना बैंक अकाउंट नंबर डालें। - इसे कंफर्म करने के लिए आपको फिर से अकाउंट नंबर डालने के लिए कहा जाएगा। - इसके बाद आपको नीचे दिए के कैप्चा कोड को डालना होगा। - इसे डालने के बाद यहां दिए सर्च बटन पर क्लिक करें। - क्लिक करते ही आपके सामने आपके बैंक खाते से जुड़ी जानकारी आ जाएगी। जिसमें यह सारी जानकारी होगी कि यह पैसे कहां से आए हैं।

एक तरफ Lockdown है और दूसरी तरफ पैसे की किल्लत की चिंता। इस बीच EPFO ने अपे सदस्यों को बड़ा तोहफा देते हुए नियमों में बदलाव किया है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन Employees' Provident Fund Organisation (EPFO) ने लॉकडाउन के दौरान सदस्यों को घर बैठे अपने खाते में जन्म तारीख बदलने की सुविधा दे दी है। वहीं एक काश विकल्प के तहत तेजी से क्लेम सेटलमेंट भी कर रही है। EPFO के Outbreak of Pandemic-COVID-19 के तहत मिलने वाले क्लेम्स को प्राथमिकता के साथ पहले सैटल किया जा रहा है। इसके बाद सिर्फ 72 घंटे में ही आपके खाते में पैसे आ जाएंगे।

EPFO में अपडेट करें Birth Date

नौकरीपेशा लोग EPF में अपना अंशदान देते हैं वो चाहें तो अपने अकाउंट में दर्ज गलत जन्म तारीख को बदल सकते हैं। हालांकि, इसके लिए EPFO ने एक शर्त रख दी है।

हाल ही में EPFO ने Aadhaar Card को Birth Date की पहचान के रूप में मान्यता दी है। इसके बाद अब Aadhaar Card की मदद से EPFO में जन्मतिथि को ठीक करवाया जा सकेगा।

इसके बाद अब एक नई सुविधा मिली है जिसका फायदा लाखों EPFO Members को होगा। दरअसल, EPFO ने अपने सदस्यों के जन्म तारिख बदलने की सुविधा दे दी है। हालांकि, इसमें शर्त यह है कि वो जन्म तारिख बदल रहे हैं उसमें और सदस्य के आधार कार्ड में दर्ज जन्म तारिख में तीन साल का ही अंतर होना चाहिए। यहां बता दें कि पहले EPFO 1 साल का अंतर ही वैध मानता था लेकिन अब इसे बढ़ाकर 3 साल कर दिया गया है। जन्मतिथि में अंतर के कारण खाताधारक को पीएफ से पैसा निकालने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता था।

ईपीएफओ के इस कदम का फायदा उन लाखों कर्माचारियों को होगा जिनकी जन्मतिथि गलत थी और उनके पास उपलब्ध कागजों में इसका अंतर एक साल से ज्यादा था जिसे वो लंबे समय से इसे अपडेट करवाने की कोशिश कर रहे थे।

EPFO ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है और लिखा है कि यूजर्स ऑनलाइन इसे लेकर अर्जी दे सकते हैं।

Covid-19 के तहत मिलने वाले क्लेम्स को मिल रही प्राथमिकता

इसके अलावा EPFO ने अपने सदस्यों को प्राथमिकता से क्लेम सैटल करने की सुविधा भी दी है। इसने ट्वीट कर जानकारी दी है कि जिन लोगों ने Outbreak of Pandemic- COVID-19 के तहत आवेदन किया है उन्हें प्राथमिकता से क्लेम सैटल कर दिया जा रहा है। ईपीएफओ ने ट्वीट कर यह भी कहा है कि जिन लोगों ने पहले क्लेम किए हैं और सैटल नहीं हुए वो भी Covid-19 के तहत इन्हें फॉरवर्ड कर तेजी से क्लेम ले सकते हैं। Covid-19 के तहत ऑटो मोड से क्लेम सैटल किए जा रहे हैं और सिर्फ 72 घंटे में पैसे आपके खाते में आ जाएंगे।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020