Leena Manimekalai objectionable tweet । फिल्म 'काली' के विवादित पोस्टर को लेकर विवाद थमा भी नहीं था कि फिल्मकार लीना मणिमेकलई ने एक बार फिर सोशल मीडिया पर एक तस्वीर को शेयर कर विवाद खड़ा कर दिया है। लीना ने जो तस्वीर शेयर की है, उसमें शिव और पार्वती के वेश में 2 कलाकार सिगरेट पीते नजर आ रहे हैं। गौरतलब है कि विवादित पोस्टर को लेकर हंगामे के बाद लीना के खिलाफ कई राज्यों में FIR दर्ज की जा चुकी है। लीना ने अपने खिलाफ दर्ज मामलों को लेकर भी कहा है कि भारत सबसे बड़ा हेट मशीन बन गया है। देश को अपमानित करने हुए लीना ने कहा कि मुझे सेंसर करने की कोशिश की जा रही है और कहीं भी सुरक्षित महसूस नहीं कर रही हूं।

साल 2013 में पीएम मोदी पर साधा था निशाना

पोस्टर विवाद के बीच लीना मणिमेकलाई के कुछ पुराने ट्वीट भी वायरल हो गए हैं। जिसमें उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ-साथ भगवान राम को लेकर भी कुछ ट्वीट किए थे। लीना ने सितंबर 2013 में एक ट्वीट किया था, जिसमें लिखा था कि 'मैं कसम खाती हूं कि अगर मोदी मेरे जीवन में कभी भी भारत के प्रधानमंत्री बन जाते हैं तो मैं अपना पासपोर्ट, पैन कार्ड, राशन गाड़ी और अपनी नागरिकता सरेंडर कर दूंगी।'

भगवान राम को बताया था भाजपा की वोटिंग मशीन

इसके अलावा लीना मणिमेकलई का 2020 का एक ट्वीट भी वायरल हो रहा है, जिसमें लीना ने भगवान राम को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। लीना ने अपने ट्वीट में लिखा था कि 'राम भगवान नहीं हैं। वह केवल भारतीय जनता पार्टी की ओर से बनाई गई एक इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन है।

ट्विटर ने लीना पर की कार्रवाई

इस पूरे विवाद के बीच ट्विटर ने बुधवार को लीना के उस ट्वीट को भारत में ब्लॉक कर दिया, जिसमें लीना ने 'काली' का विवादित पोस्टर शेयर किया था। इस पोस्टर में देवी काली को सिगरेट दिखाया गया था। गौरतलब है कि लीना की शार्ट फिल्म को कनाडा के टोरंटो में आगा खान म्यूजियम में प्रदर्शित किया जाना था, लेकिन म्यूजियम ने अब कनाडा में भारतीय उच्चायोग की आपत्तियों के बाद फिल्म के प्रसारण पर रोक लगा दी है और लिखित में माफी भी मांग ली है।

Posted By: Sandeep Chourey

  • Font Size
  • Close